ताज़ा खबर
 

गाजीपुर बॉर्डर प्रकरणः हरियाणा के गांवों में देर रात तक चल रही बैठकें, ग्रामीणों की दिल्ली सीमा पर कूच करने की रणनीति

यूपी पुलिस की रणनीति ने हरियाणा के किसानों को आक्रोशित कर दिया है। कई गांवों में देर रात तक बैठकें जारी हैं। किसानों की योजना है कि बड़ी संख्या में दिल्ली सीमा की तरफ कूच करके सरकार को बता दें कि आंदोलन अभी खत्म नहीं हुआ है।

किसान परेड (फोटो सोर्सः एजेंसी)

गाजीपुर बॉर्डर पर धरना दे रहे किसानों को जबरन उठाने की यूपी पुलिस की रणनीति ने हरियाणा के किसानों को आक्रोशित कर दिया है। कई गांवों में देर रात तक बैठकें जारी हैं। किसानों की योजना है कि बड़ी संख्या में दिल्ली सीमा की तरफ कूच करके सरकार को बता दें कि आंदोलन अभी खत्म नहीं हुआ है।

उधर, जींद जिले के कंडेला गांव के पास जींद-चंडीगढ़ नेशनल हाइवे को ग्रामीणों ने ब्लॉक कर दिया। गांव के लोगों ने इस मार्ग को पूरी तरह से अवरुद्ध कर दिया है। बताया जाता है कि किसान आंदोलन पर सरकार के रवैये को देखते हुए शुक्रवार को खाप पंचायतों की बैठक बुलाई गई है। इसमें सिलसिलेवार मंथन होगा कि आंदोलन कर रहे किसानों की किस तरह से मदद की जाए। ग्रामीण सरकार के कदम से बेहद आहत दिख रहे हैं।

गौरतलब है कि 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद गुरुवार को गाजीपुर पर बिजली-पानी की सप्लाई काट दी गई। यहां यूपी की पुलिस भी मौजूद रही। गाजीपुर प्रशासन ने प्रदर्शनकारियों को बॉर्डर से हटने को कहा है। उसके बाद किसानों ने खुद टेंट खाली कर दिए। यहां सड़कें अब सुनसान नजर आ रही हैं। यूपी पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर को दोनों तरफ से बंद कर दिया है।

सिंघु पर दिल्ली पुलिस ने भारी तादाद में अपने जवान तैनात किए हैं। सिंघु से लोगों को पैदल भी दिल्ली की तरफ नहीं जाने दिया जा रहा है। यहां दिल्ली पुलिस ने हरियाणा को जोड़ने वाली सड़क जेसीबी से खोद दी है। सिंघु पर जहां गणतंत्र दिवस पर किसानों की तादाद 80 हजार तक पहुंच गई थी।

उधर, संयुक्त किसान मोर्चा ने सिंघु पर रैली निकाली ताकि आंदोलनकारियों का उत्साह बना रहे। रैली के दौरान हरियाणा और पंजाब के किसानों के आपसी मतभेद भी दूर करने की कोशिश की गई। इस रैली में किसान नेता गुरनाम चढूनी और दर्शनपाल भी मौजूद थे। टीकरी बॉर्डर पर भी किसानों ने तिरंगा रैली निकाली।

Next Stories
1 ‘बेलगाम’ को लेकर महाराष्ट्र-कर्नाटक आमने सामने! संजय राउत बोले- डिप्टी सीएम को इतिहास की समझ होनी चाहिए
2 ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की रिपोर्टः भारत में चीन से ज्यादा पर पाकिस्तान से कम करप्शन, पिछले दो सालों में यहां बढ़ी रिश्वतखोरी
3 लाल किले पर कोई शख्स झंडा फहरा कर चला गया, पुलिस ने नहीं पकड़ा?, एंकर के सवाल पर शाहनवाज हुसैन कहने लगे CISF के जिम्मे था
ये पढ़ा क्या?
X