ताज़ा खबर
 

Johannesburg: भारतीयों के बीच मोदी ने बयां की भारत और द. अफ्रीका के बीच 10 जुलाई की अहमियत

साउथ अफ्रीका के जोहानिसबर्ग में भारतीय लोगों के बीच शुरु पीएम मोदी का भाषण दिया। इस दौरान उन्होंने भारत और साउथ अफ्रीका से जुड़े कई रहस्यों को उजागर किया।
Author जोहांसबर्ग | July 9, 2016 01:31 am
साउथ अफ्रीका के जोहानिसबर्ग में भाषण देते पीएम मोदी

साउथ अफ्रीका के जोहानिसबर्ग में भारतीय लोगों के बीच शुरु पीएम मोदी का भाषण दिया। इस दौरान 15 हजार भारतीय के बीच मोदी ने सभी का बुलंद आवाज में केम छो कहकर उनका हाल पूछा और सभी ने जोशीले अंदाज में उन्हें जवाब दिया। पीएम के आने पर मोदी-मोदी के नारे के साथ पूरा परिसर गूंजने लगा और उनसे हाथ मिलाने के लिए युवाओं का सैलाव दिखा।

मोदी के स्वागत में जोहनिसबर्ग में कोई कमी नहीं दिखी। जहां पर साउथ अफ्रीका राष्ट्रगीत के बाद हमारा जनगणमन और लता मंगेशकर की आवाज में वंदेमातरम के स्वर गूंजे। इसके अलावा स्टेज पर कलाकारों की शानदार प्रस्तुति देखने को मिली।

इस दौरान पीएम मोदी ने साउथ अफ्रीका में रह रहे सभी भारतीयों से कहा कि आइए हमारे भारत की अब हालात देखिए कि किस तरह हम आगे बढ़ रहे हैं। कहा भारत युवाओं का देश है। कुछ नया करने वालों के लिए भारत उम्मीद की धरती है। इस दौरान मोदी 10 जुलाई के खास दिन के बारे में बताया कि इस दिन साउथ अफ्रीका की इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी हुई थी। उन्होंने बताया कि 10 जुलाई 1991 को दक्षि‍ण अफ्रीका के क्रिकेट से वैट हटने के बाद साउथ अफ्रीका ने भारतीय टीम के साथ क्रिकेट खेला था। उन्होंने कहा यहां भारत की कई भाषाएं घुलमिल गई हैं, लिहाजा समर्पण की भावना दोनों देशों में एक जैसी ही है। उन्होंने कहा दुनिया में सबसे ज्यादा भारतीय साउथ अफ्रीका में ही रहते हैं। मोदी ने बताया कि साउथ अफ्रीका के फोर्डसबर्ग को लिटिल इंडिया कहा जाता है। उन्होंने कहा यहां आकर आपनापन मेहसूस होता है। इस दौरान भारत की सफलता को 4 शब्दों वाले अंग्रेजी के HOPE में बया किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App