अर्थव्यवस्था में आगे हो सकते हैं दूसरे देश लेकिन अध्यात्म में भारत से आगे नहीं जा सकते- बोले यूपी के मंत्री

चौधरी ने मथुरा-वृंदावन में जाकर मंदिरों में पूजा की। उनके साथ केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल, बीएल वर्मा, यूपी के मंत्री श्रीकांत शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष किशन सिंह, बीजेपी विधायक पूरन प्रकाश भी उपस्थित थे।

Uttar Pradesh, Mathura, UP minister, Laxmi Narayan Chaudhary, India spiritual teacher
केंद्रीय मंत्रियों के साथ मथुरा में पूजा करते यूपी के मंत्री। (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने पीएम मोदी की तारीफ में कहा कि दुनिया के दूसरे देश अर्थव्यवस्था के मामले में आगे हो सकते हैं लेकिन भारत के जैसा अध्यात्मिक ज्ञान किसी के पास नहीं है। कोई भी दूसरा देश वेद, पुराण और उपनिषदों को प्रस्तुत नहीं कर सकता। उनका कहना था कि भारत विश्व का अध्यात्मिक गुरु है।

चौधरी ने मथुरा-वृंदावन में जाकर मंदिरों में पूजा की। उनके साथ केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल, बीएल वर्मा, यूपी के मंत्री श्रीकांत शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष किशन सिंह, बीजेपी विधायक पूरन प्रकाश भी उपस्थित थे। जिला मजिस्ट्रेट नवनीत सिंह तहल ने बताया कि सभी नेताओं ने अलग-अलग मंदिरों में जाकर भगवान का अभिषेक किया। चौधरी खुद आशेश्वर महादेव मंदिर में मौजूद रहे। श्रीकांत शर्मा रंगेश्वर मंदिर में पूजा करने गए।

ये पहला मौका नहीं है जब चौधरी ने कोई लीक से अलग हटकर बयान दिया। इससे पहले वह शिवपाल सिंह को बीजेपी में शामिल कराने के मौके पर बीजेपी को गंगा बता चुके हैं। प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल को भाजपा में शामिल कराने के सवाल पर उन्होंने कहा था कि हमारी पार्टी तो गंगा की तरह पवित्र है, यहां जो आएगा पवित्र हो जाएगा।

योगी की तारीफ में कसीदे पढ़ते हुए चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये कर्जा माफ किया। किसान और देश आज जो परेशान है उसकी वजह कांग्रेस है। उन्होंने कहा कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव पहले अपने चाचा से झगड़े का निपटारा कर लें। मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में प्रदेश तेजी से उन्नति कर रहा है। सरकार की सभी जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ सीधे सीधे लाभार्थी के खाते में पहुंच रहा है।

चौधरी ने कहा कि उन्नति के पांच रास्ते हैं शिक्षा, स्वास्थ्य, ऊर्जा, यातायात का साधन सड़क परिवहन और रोजगार। उन्होंने कोरोना से लड़ाई में केंद्र व प्रदेश सरकार को पूरे नंबर दिए। मंत्री का कहना था कि कोरोना जैसी आपदा पहली बार आई, जब साइकिल से लेकर हवाई जहाज तक पूरी दुनिया में बंद हो गए। ऐसी स्थिति का भारत में बड़ी हिम्मत के साथ मुकाबला किया। इस दौरान एक विपक्षी का भी मुंह नहीं खुल पाया। सभी के खाने-पीने की व्यवस्था सरकार ने की। दूसरी लहर में भी योगी खुद सड़कों पर निकलकर सामने आए।

पढें अपडेट समाचार (Newsupdate News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
विनोद राय ने मनमोहन सिंह पर बोला हमला, कहा- ‘कांग्रेसी नेताओं ने बनाया था दबाव’
अपडेट