ताज़ा खबर
 

आप तो कहते हैं ‘लोगों के भगवान’ हैं- पत्रकार ने टोका, सिंधिया ने किया इन्कार; अगले ही पल दिखाई गलती तो कहा- जुबान फिसल गई थी

रजत शर्मा ने सिधिया से पूछा कि कुछ लोग कहते हैं कि आपने कहा था कि मैं लोगों का भगवान हूं। सिंधिया ने इस सवाल पर कहा कि नहीं। मैंने कभी ये बात नहीं कहा।

भारतीय जनता पार्टी के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

भारतीय जनता पार्टी के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया अच्छे वक्ता माने जाते हैं। हालांकि एक बार इंडिया टीवी के शो आप की अदालत में रजत शर्मा के सवालों में उलझ गए थे। रजत शर्मा ने उनसे कहा था कि आप अपने आप को लोगों का भगवान कहते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसा मैंने नहीं कहा लेकिन अगले ही पल उनकी गलती दिखा दी गयी जिसके बाद उन्होंने कहा कि जुबां फिसल गई थी।

साल 2015 में जब ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस पार्टी में थे उसी समय आप की अदालत में उन्होंने कई सवालों का जवाब दिया था। रजत शर्मा ने सिधिया से पूछा कि कुछ लोग कहते हैं कि आपने कहा था कि मैं लोगों का भगवान हूं। सिंधिया ने इस सवाल पर कहा कि नहीं। मैंने कभी ये बात नहीं कहा। रजत शर्मा ने फिर से सवाल किया कि आप ने नहीं कहा? अगर में आपको सबूत दिखा दूं? इस पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि एक वीडियो जरूर आया था।

टीवी पर उस वीडियो को चलाया गया जिसमें वो कह रहे थे कि जिस तरह भगवान के रूप में में आपके बीच आकर समस्याओं का समाधान निकालता हूं। विकास करता हूं उसी तरह प्रजातंत्र के मंदिर में जाकर आप मुझे वोट दें। उस वीडियो को देखकर सिंधिया ने कहा कि जुबां फिसल गई थी मेरे लिए मेरी जनता ही भगवान है।

उन्होंने कहा कि मैं इस गलती को स्वीकार करता हूं। जहां मैं गलत हूं वहां मैं उसे स्वीकार करूंगा। उसी शो में सिंधिया से पूछा गया था कि क्या राहुल गांधी होमवर्क कर के नहीं आते हैं? वो कुछ भी बोल देते हैं?

राहुल गांधी का बचाव करते हुए उन्होंने कहा था कि वो हर मुद्दे पर होमवर्क कर के ही जाते हैं। आपने देखा है कि संसद में और संसद के बाहर जब वो सवाल उठाते हैं तो मुद्दों के आधार पर ही उठाते हैं। उस कार्यक्रम में ही उन्होंने ये भी कहा था कि कांग्रेस पार्टी के भीतर किसी भी तरह के संवाद की कमी नहीं है।

Next Stories
1 कोरोना तेजी से UP में कम हो रहा- योगी का दावा, आचार्य ने पूछा- फिर मौतें क्यों बढ़ रही हैं CM जी?
2 भारत को भूटान से मिलेगा हर रोज़ चालीस मीट्रिक टन ऑक्सीजन, मुश्किल समय में हेमंत बिस्व सरमा के प्रयासों से हुआ संभव
3 प्रशांत किशोर के नाम पर पांच करोड़ की कर ली ठगी, पंजाब चुनाव में टिकट दिलाने का देते थे झांसा, कई नेताओं को लगाया चूना
ये पढ़ा क्या?
X