ताज़ा खबर
 

world t20: पाकिस्तान के भारत में खेलने पर सस्पेंस बरकरार, पीसीबी ने कहा- सुरक्षा दल भेजेंगे

भारत और पाकिस्तान के बीच 19 मार्च को धर्मशाला में होने वाले मैच पर संकट के बादल मंडरा गए हैं । हिमाचल के पूर्व सैनिक जनवरी में पठानकोट पर हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर इस मैच का विरोध कर रहे हैं।

Author इस्लामाबाद | Updated: March 4, 2016 10:16 PM
PAKISTAN, world t20, PCB, india- pak match, match in dharmashala, t-20 world cup india pak match, ms dhoni, rajeev shukla, bcci, anurag thakur, cricket news, sports news,प्रधानमंत्री शरीफ ने अपने पाकिस्तानी टीम को दी जाने वाली सुरक्षा का जायजा लेने के लिये भारत में सुरक्षा दल भेजने के निर्देश दिये हैं। ( representative picture)

पाकिस्तान की विश्व टी20 चैंपियनशिप में भागीदारी को लेकर अब भी अनिश्चितता बनी हुई है। उसकी सरकार ने शुक्रवार को भारत में स्थिति का जायजा लेने के लिये सुरक्षा दल भेजने का फैसला लिया है। जिससे गतिरोध के शीघ्र समाधान में आगे भी देरी होगी।  पाकिस्तान सरकार ने आठ मार्च से तीन अप्रैल के बीच होने वाले टूर्नामेंट के लिये अपनी टीम को भाग लेने की अनुमति दे दी थी लेकिन अब वह अपने सुरक्षा दल के रिपोर्ट सौंपने के बाद ही इस दौरे पर अंतिम फैसला करेगा।

सुरक्षा दल भेजने का फैसला इस्लामाबाद में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ वहां के गृहमंत्री चौधरी निसार अली खान की बैठक के बाद किया गया। उन्होंने बीसीसीआई के फुलपू्रफ सुरक्षा मुहैया कराने के आश्वासन को भी नजरअंदाज कर दिया।  प्रधानमंत्री शरीफ ने अपने पाकिस्तानी टीम को दी जाने वाली सुरक्षा का जायजा लेने के लिये भारत में सुरक्षा दल भेजने के निर्देश दिये हैं।

पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने गृह मंत्री को नयी दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग के समन्वय से भारत में क्रिकेट टीम के लिये फुलप्रूफ सुरक्षा उपाय सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। ’’ बीसीसीआई ने अपनी तरफ से पाकिस्तान को फुलपू्रफ सुरक्षा मुहैया कराने का आश्वासन दिया था। पाकिस्तान ने कल सुरक्षा कारणों से टूर्नामेंट से हटने की धमकी दी थी जिसके बाद बीसीसीआई का यह बयान आया।  बोर्ड के सीनियर अधिकारी राजीव शुक्ला ने कहा, ‘‘जहां तक बीसीसीआई का सवाल है, पाकिस्तान को फुलप्रूफ सुरक्षा दी जायेगी।

उन्हें सुरक्षा इंतजामात को लेकर चिंता करने की जरूरत नहीं है। अब फैसला पीसीबी को लेना है कि वे आना चाहते हैं या नहीं। वे आईसीसी के प्रति जवाबदेह हैं । पीसीबी को इस मसले पर फैसला लेना है लेकिन हम उनके खिलाड़ियों को फुलप्रूफ सुरक्षा देंगे।’’ पीसीबी द्वारा भारत सरकार से लिखित आश्वासन मांगे जाने के बारे में शुक्ला ने कहा ,‘‘ हम सरकार की ओर से कैसे बोल सकते हैं ।’’

भारत और पाकिस्तान के बीच 19 मार्च को धर्मशाला में यह मैच होना है। हिमाचल के पूर्व सैनिक जनवरी में पठानकोट पर हुए आतंकवादी हमले के मद्देनजर इस मैच का विरोध कर रहे हैं। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान ने कहा, ‘‘अब स्थिति यह है कि इस सुरक्षा दल की हरी झंडी मिलने के बाद हम भारत में अपनी टीम भेज सकते हैं।’’उन्होंने कहा, ‘‘सरकार ने हमें विश्व टी20 में खेलने की अनुमति दे दी थी लेकिन धर्मशाला में भारत और पाकिस्तान के बीच मैच को लेकर सुरक्षा चिंताओं को लेकर प्रधानमंत्री को एक रिपोर्ट सौंपी गयी है।’’

बीसीसीआई सचिव और भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने कल हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से मुलाकात के बाद कहा था कि उन्हें मैच धर्मशाला में होने की उम्मीद है । शुक्ला ने कहा ,‘‘ मैने हिमाचल के मुख्यमंत्री से बात की है और उन्होंने सभी जरूरी इंतजाम करने का वादा किया है ।’’ पूर्व सैनिकों के विरोध के बारे में उन्होंने कहा ,‘‘ हमारी सहानुभूति उनके साथ है और यही वजह है कि पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय मैचों पर हमने कोई फैसला नहीं लिया है लेकिन यह विश्व कप है । अब वेन्यू बदलना भी आसान नहीं होगा ।’’

भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने भी कहा कि 19 मार्च को होने वाले मैच की सुरक्षा के लिये केंद्रीय अर्धसैनिक बल तैनात किये जाएंगे।  उन्होंने यहां पत्रकारों से कहा ,‘‘ यदि हिमाचल प्रदेश सरकार सुरक्षाबल की मांग करती है तो हम देंगे।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories