ताज़ा खबर
 

हैदराबाद: यूनिवर्सिटी के बाहर प्रदर्शन कर रहे स्टूडेंट्स हिरासत में, रोहित वेमुला की बरसी पर एकत्रित हुए थे

हैदराबाद यूनिवर्सिटी के बाहर से कुछ स्टूडेंट्स को हिरासत में लिया गया है।

हैदराबाद यूनिवर्सिटी के पीएचडी स्‍कॉलर रोहित वेमुला होस्टल के अपने कमरे में लटके हुए मिले थे।

प्रदर्शनकारियों के एक समूह ने रोहित वेमुला की पहली बरसी पर आज आयोजित एक बैठक में हिस्सा लेने के लिए हैदराबाद विश्वविद्यालय के दरवाजे से जबरन प्रवेश करने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उन्हें वहां से हटा दिया।
विभिन्न छात्र संगठनों से जुड़े यह प्रदर्शनकारी वेमुला के ‘‘शहादत दिन’’ के अवसर पर विश्वविद्यालय के दरवाजे पर जमा हुए थे। दलित शोधार्थी वेमुला 17 जनवरी, 2016 को विश्वविद्यालय परिसर में स्थित छात्रावास के अपने कमरे में फांसी से लटकता हुआ मिला था।

‘सामाजिक न्याय के लिए संयुक्त कार्रवाई समिति – हैदराबाद विश्वविद्यालय’ (जेएसी) के बैनर तले एकत्र हुए विद्यार्थियों के एक धड़े ने कहा कि वे ‘रोहित स्तूप’ के पास जमा होंगे और वेमुला की विरासत को याद करेंगे तथा ‘‘जातिवाद और साम्प्रदायिकता’’ के खिलाफ लड़ाई जारी रखने की कसम खाएंगे।

प्रदर्शनकारियों ने विश्वविद्यालय के मुख्य दरवाजे के ओर मार्च निकाला, विश्वविद्यालय के कुलपति अप्पाराव पोदिले के खिलाफ नारेबाजी कर उनकी तत्काल गिरफ्तारी की मांग की।
‘‘रोहित वेमुला के लिए न्याय’’ की तख्तियां उठाए प्रदर्शनकारियों ने मुख्य दरवाजे की ओर मार्च निकाला और वहां लगे अवरोधकों को हटा कर जबरन अंदर प्रवेश करने का प्रयास किया।

वेमुला के आत्महत्या के बाद देश भर में प्रदर्शन हुए थे, यह बड़ा राजनीतिक मुद्दा बन गया था और विभिन्न राजनीतिक दल तथा दलित संगठन विद्यार्थियों का पक्ष लेते हुए भाजपा और विश्वविद्यालय प्रशासन को दलित विरोधी करार दे रहे थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories