ताज़ा खबर
 

Honda Activa 6G: नए मॉडल में होंगे ये स्‍पेशल फीचर्स और तकनीक, शुरू हो गई टेस्टिंग

इसमें कंपनी ने फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम को शामिल किया है जो कि न केवल स्कूटर के परफॉर्मेंश को बेहतर बनएगा ​बल्कि इससे माइलेज पर भी सकारात्मक असर देखने को मिलेगा। दरअसल, फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम एक तरह का डिवाइस होता है। जो कि वाहन के इंजन को ईंधन की आपूर्ति करता है।

Author Updated: March 21, 2019 7:54 AM
Honda Activa 6G नए फीचर्स और तकनीक के साथ आ रही है।

Honda Activa 6G Price, Features: भारतीय बाजार में ऑटोमेटिक स्कूटर सेग्मेंट में होंडा एक्टिवा का कोई जवाब नहीं है। ये स्कूटर लंबे समय से देश की सड़क पर शानदार प्रदर्शन कर रही है। अब कंपनी Honda Activa के अगले जेनरेशन 6G को लांच करने जा रही है। हाल ही में इसके नए मॉडल को टेस्टिंग के दौरान स्पॉट भी किया गया है। बताया जा रहा है कि नई होंडा एक्टिवा को कंपनी ने सरकार के निर्देशानुसार नए मानकों के अनुसार तैयार किया है। इसके अलावा इसमें फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम को भी शामिल किया गया है जिससे इसका माइलेज मौजूदा मॉडल से ज्यादा बेहतर होगा।

इसके अलावा इस स्कूटर में कंपनी नए BS6 इंजन का प्रयोग करेगी। नई Honda Activa 6G में कंपनी न केवल इंजन में बदलाव कर रही है बल्कि इसमें कुछ अत्याधुनिक फीचर्स को भी शामिल किया जा सकता है। इसमें टेलेस्कोपिक फ्रंट फॉर्क की जगह लिंक सस्पेंशन, नया इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, डिस्क ब्रेक स्टैंडर्ड के तौर पर, नया एलॉय व्हील और नए हैंडलबार का प्रयोग किया जा सकता है।

हाल ही में नई Honda Activa 6G को पूणे में ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया (ARAI) के पास टेस्टिंग के दौरान स्पॉट किया गया है। ये एक सरकारी फर्म है जो कि देश में लांच होने वाले वाहनों के मानकों की जांच करता है और उन्हें अनुमति प्रदान करता है। बहरहाल, नई होंडा एक्टिवा में सबसे बड़ा बदलाव इसके इंजन के रूप में देखने को मिलेगा।

इसमें कंपनी ने फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम को शामिल किया है जो कि न केवल स्कूटर के परफॉर्मेंश को बेहतर बनएगा ​बल्कि इससे माइलेज पर भी सकारात्मक असर देखने को मिलेगा। दरअसल, फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम एक तरह का डिवाइस होता है। जो कि वाहन के इंजन को ईंधन की आपूर्ति करता है। इसमें एक चिप लगाया जाता है जिसे इलेक्ट्रॉनिक कंट्रोल यूनिट (ECU) कहते हैं। ये एक इलेक्ट्रो मैकेनिकल पार्ट होता है ​जो कि इंजेक्टर द्वारा कंट्रोल किया जाता है। ये वाहन के इंजन को केवल उतना ही फ्यूल देने की अनुमति देता है जितने की जरूरत होती है। जिसके कारण फ्यूल के व्यर्थ होने की संभावना कम हो जाती है।

इस सिस्टम के चलते आपको बेहतर माइलेज के साथ साथ, स्मूथ थ्रोटल रिस्पांस, कम से कम मेंटेनेंस, लोअर इमिशन जैसे फायदे भी मिलते हैं। हालांकि अभी इस बारे में कोई भी जानकारी आधिकारिक रूप से साझा नहीं की गई है कि इस स्कूटर को बाजार में बिक्री के लिए कब पेश किया जाएगा। लेकिन जैसी कंपनी की तैयारियां चल रही हैं इसे देखकर कहा जा सकता है कि बहुत जल्द ही ये स्कूटर बाजार में होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories