ताज़ा खबर
 

पानी में तैरते मिले पत्थरों को चमत्कार मानकर पूजने लगे लोग

यमुना से निकलने वाली हांसी-बुटाना लिंक नहर में गांव निमनाबाद और आंटा से पानी में तैरते दो पत्थर मिले हैं।

Author जींद (हरियााणा) | July 31, 2016 4:34 AM
(File Photo)

यमुना से निकलने वाली हांसी-बुटाना लिंक नहर में गांव निमनाबाद और आंटा से पानी में तैरते दो पत्थर मिले हैं। तैरते पत्थरों के मिलने की जानकारी जैसे ही वहां लोगों को मिली लोग उमड़ पड़े. लोग पत्थरों को रामायण काल से जोड़कर पूजा कर रहे हैं।

गांव निमनाबाद के एक सिख डेरे के लोग जब नहर में अपने पशुओ को नहला रहे थे, तो उन्हें पानी में कोई तैरते हुए पत्थर मिले. वहीं गांव आंटा में नहर से लोगों को ऐसा ही तैरता पत्थर मिला है।

कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के भूगर्भ वैज्ञानिक डॉ. अक्षय राजन चौधरी का कहना कि पहाड़ो में जिन स्थानों पर लावा निकलता है, वहां सॉफ्ट पत्थर मिलते हैं, जो पानी में तैरते हैं. लेकिन यमुना नदी जिन स्थानों से निकलती है, वहां लावा जैसी कोई बात नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X