ताज़ा खबर
 

‘पापा-पापा’ बोलते हुए रोते बच्चे के वायरल वीडियो ने बढ़ाई ट्रंप सरकार की मुश्किल, जानें क्या है वजह

आव्रजकों से उनके बच्चों को छीन लेने की नीति पर डोनाल्ड टूंप प्रशासन की आलोचनाओं के बीच अभिभावकों से दूर हिरासत केन्द्र में बंद एक छोटे बच्चे के रोने का आॅडियो वायरल हुआ है , जिसने इस विषय पर विवाद और गहरा दिया है।

Author ब्राउन्सविले (अमेरिका) | June 19, 2018 3:50 PM
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप।

आव्रजकों से उनके बच्चों को छीन लेने की नीति पर डोनाल्ड टूंप प्रशासन की आलोचनाओं के बीच अभिभावकों से दूर हिरासत केन्द्र में बंद एक छोटे बच्चे के रोने का आॅडियो वायरल हुआ है , जिसने इस विषय पर विवाद और गहरा दिया है। आॅडियो में सुना जा सकता है कि एक बच्चा स्पेनी भाषा में ‘‘ पापा , पापा ’’ चीख रहा है। यह आॅडियो सबसे पहले गैर – लाभकारी संगठन प्रो – पब्लिका के पास आया था और बाद में ‘ एपी ’ को मिला। मानवाधिकार अधिवक्ता जेनिफर हारबरी का कहना है कि उन्हें यह आॅडिया टेप एक ‘ व्हिसल ब्लोअर ’ से मिला। उन्होंने प्रो – पब्लिका को बताया कि यह पिछले सप्ताह रिकॉर्ड किया गया था। उन्होंने इसकी कोई जानकारी नहीं दी कि रेकॉर्डिंग कहां की है।

आंतरिक सुरक्षा सचिव के . निलसन का कहना है कि उन्होंने आॅडियो क्लिप नहीं सुनी है और सरकार हिरासत में लिए गये बच्चों के साथ मानवीय व्यवहार कर रही है।
उन्होंने कहा कि हिरासत केन्द्रों के लिए सरकार के मानदंड बहुत उच्च हैं और बच्चों का अच्छे से ख्याल रखा जा रहा है। बहरहाल, उनका कहना था कि संसद को कानूनी खामियों को दूर करना चाहिए ताकि परिवार साथ रह सकें। बच्चे का यह रोता हुआ आॅडियो क्लिप ऐसे वक्त में सामने आया है जब नेता और वकील बड़ी संख्या में अमेरिका – मैक्सिको सीमा पर स्थित अमेरिकी हिरासत केन्द्रों का दौरा कर डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं।

ट्रंप प्रशासन की आव्रजन नीति को लेकर आलोचनाओं का दायरा बड़ा हो गया है। मोरमन चर्च का कहना है कि सीमा पर परिवारों के बिछड़ने से वह बहुत दुखी है। उसने राष्ट्रीय नेताओं से इस समस्या का मानवीय हल निकालने का अनुरोध किया है। सीमा पर करीब 80 लोगों नेआव्रजन संबंधी आरोपों पर अपनी गलती मानी। उनमें से एक कुछ ने जज से ‘‘ मेरी बेटी के साथ क्या होने जा रहा है ? और  मेरे बेटे का क्या होगा ?  जैसे सवाल किए। अधिवक्ताओं ने बताया कि आव्रजकों के साथ करीब दो दर्जन बच्चे – बच्चियां अमेरिका आयी थीं । उनके भविष्य के बारे में पूछे गये सवालों पर जज ने कहा , उन्हें नहीं पता कि बच्चों के साथ क्या होना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App