ताज़ा खबर
 

पुलिस हिरासत में दलित की मौत, 12 पुलिसकर्मी निलंबित

उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर के चकेरी पुलिस स्टेशन की अहिरवां चौकी में गुरुवार दोपहर पुलिस हिरासत में एक दलित की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

Author कानपुर | August 5, 2016 12:03 PM
(File Photo)

उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर के चकेरी पुलिस स्टेशन की अहिरवां चौकी में गुरुवार दोपहर पुलिस हिरासत में एक दलित की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। घटना के बाद कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने अहिरवां चौकी प्रभारी समेत सभी 12 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि उसकी मौत पुलिस की पिटाई से हुई है और घर वालों ने मामले में चौकी प्रभारी और अन्य पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआइआर भी दर्ज कराई है। घटना के विरोध में परिजनों ने चकेरी पुलिस स्टेशन के सामने सड़क जाम कर हंगामा किया और पुलिस स्टेशन पर मामूली पथराव भी किया। चकेरी पुलिस स्टेशन को बाल्मीकि समाज के लोगों ने घेर लिया जिसे पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद शाम को खुलवाया। पथराव में अभी तक किसी के घायल होने की बात सामने नहीं आई है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि कुछ दिनों पहले इलाके में हुुई लूट के मामले में पूछताछ के लिए शिव कटरा के कमल बाल्मीकि (26) को बुधवार रात अहिरवां चौकी लाया गया था और उससे पूछताछ की गई थी, उसे अभी गिरफ्तार नहीं किया गया था। गुरुवार दोपहर करीब दो बजे उसने संदिग्ध परिस्थितियों में आत्महत्या कर ली।

घटना की जानकारी मिलते ही आनन फानन में पुलिस के आला अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गए और पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। माथुर ने बताया कि कमल का शव चकेरी की अहिरवां पुलिस चौकी में पाया गया है। उसने आत्महत्या की है या उसकी पिटाई के कारण मौत हुई है। इसकी जांच के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि लापरवाही बरतने के आरोप में अहिरवां चौकी प्रभारी योगेंद्र सिंह सहित 12 सिपाहियों को तुरंत निलंबित कर दिया है और मामले की जांच के आदेश दिए गए हंै।
एसएसपी से कहा गया कि घर वाले पुलिस की ओर से पिटाई का आरोप लगा रहे हैं और उन्होंने पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआइआर भी दर्ज कराई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आरोप सही साबित होते हैं तो पुलिस कर्मियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App