ताज़ा खबर
 

शमशान हुए फुल तो गंगा किनारे ही होने लगा शवों का संस्कार, उधर, AMU में पुरानी कब्र खोदकर दफना रहे शव

कानपुर और उन्नाव के शुक्लागंज में गंगा किनारे का हाल काफी खराब है। यहां गंगा के किनारे लोग शवों को दफना रहे हैं। अगर गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी होती है तो सैकड़ों की संख्या में शव गंगा में बहने लगेंगे।

उत्तर प्रदेश के कई गंगा घाटों पर लोगों को अंतिम संस्कार के लिए जगह नहीं मिल रहा है (फोटो- PTI)

देश में कोरोना से हर दिन हजारों लोगों की मौत हो रही है। श्मशान घाटों पर शवों के अंतिम संस्कार के लिए जगह नहीं मिल रहे हैं। कानपुर में खरेश्वर घाट पर शव दफनाए जा रहे हैं। लकड़ियों के अभाव में लोग अपनी परंपरा को बदल कर शवों को दफना रहे हैं। वहीं एएमयू में पुरानी कब्र को खोदकर शव को दफनाया जा रहा है।

खबरों के अनुसार कानपुर और उन्नाव के शुक्लागंज में गंगा किनारे का हाल काफी खराब है। यहां गंगा के किनारे लोग शवों को दफना रहे हैं। अगर गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी होती है तो सैकड़ों की संख्या में शव गंगा में बहने लगेंगे। घाटों पर जगह नहीं मिलने और लकड़ियों के अभाव में लोग शवों को दफना दे रहे हैं। बताते चलें कि हाल ही में गंगा नदी मैं कई शव बहते हुए मिले थे जिसके बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के बीच जमकर आरोप प्रत्यारोप देखने को मिला था।

इधर अलीगढ़ में भी कोरोना से हाहाकार है। एएमयू में एक के बाद एक मौतों को सिलसिला जारी है। पिछले 20-22 दिनों में स्टाप के 40 लोगों की मौत हुई है। कब्रिस्तान में शव दफनाने के लिए जगह नहीं मिल रही है।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने गंगा तथा कुछ अन्य नदियों में कथित रूप से कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों के शव प्रवाहित किए जाने के मामले की न्यायिक जांच की मांग की है।प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बृहस्पतिवार को वर्चुअल माध्यम से की गई प्रेसवार्ता में कहा कि कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों के शव नदियों में बहाया जाना प्रदेश सरकार की नाकामी हैं, ऐसे में महामारी को रोकने में सरकार की विफलता का अंदाजा नदियों में बहते शवों को देखकर आसानी से लगाया जा सकता है। उनका कहना था कि नदियों के तट तक बह कर आये कई शव पीपीई किट में लिपटे हैं जिन्हें आवारा जानवर नोंच रहे हैं।

बता दें कि भारत में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 2.37 करोड़ हो गई है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3.62 लाख नए मामले दर्ज किए गए हैं।महामारी से मरने वालों का आंकड़ा 2,58,317 हो गया है, पिछले 24 घंटे में 4,120 मौतें हुई हैं।

Next Stories
1 कोरोना से हाहाकार: रेत में शव गाड़ रहे लोग, यूपी में नहीं करने दे रहे बिहार की लाशों का अंतिम संस्कार
2 कोरोना: मौत से जूझ रही मां के लिए वीडियो कॉल पर बेटे ने गाया गाना, सोशल मीडिया पर उमड़ा आंसुओं का सैलाब
3 कोरोना संकट के बीच किसानों से बात करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, 14 मई को जारी होगी किसान सम्मान निधि की किस्त
ये पढ़ा क्या?
X