ताज़ा खबर
 

कोरोनाः 90% है हमारा रिकवरी रेट- यूपी CM का दावा, पर क्या है जमीनी हकीकत?

मुजफ्फरनगर में सीएम योगी ने कहा कि राज्य में पॉजिटिविटी रेट में लगातार गिरावट आई है। पॉजिटिविटी रेट जो एक समय में 16.5% था वो आज घटकर क़रीब 3.5% रह गया है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में ऑक्सीजन भरवाने के लिए लाइन में लगे कोरोना मरीजों के परिजन। (एक्सप्रेस फोटो- प्रवीण खन्ना)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि राज्य में कोविड-19 से रिकवरी दर 90 प्रतिशत है। साथ ही उन्होंने कहा है कि दूसरे राज्यों में लोग बिना इलाज के ही मर रहे हों, पर यूपी में स्थिति काबू में है। हालांकि मुख्यमंत्री के दावों से अलग उत्तर प्रदेश में लगातार लोगों की मौत कोरोना से हो रही है। महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल जैसे राज्यों के बाद उत्तर प्रदेश में लोगों की मौत हुई है।

मुजफ्फरनगर में सीएम योगी ने कहा कि राज्य में पॉजिटिविटी रेट में लगातार गिरावट आई है। पॉजिटिविटी रेट जो एक समय में 16.5% था वो आज घटकर क़रीब 3.5% रह गया है। उत्तर प्रदेश कोरोना के सर्वाधिक टेस्ट करने वाला राज्य है, हमने अब तक 4.5 करोड़ टेस्ट किए हैं। हमारा रिकवरी रेट अभी 90% है। इससे पहले योगी ने कहा था कि महामारी के इस दौर में मीडिया को डर के बजाय सकारात्मकता फैलानी चाहिए।

गंगा में मिले थे शव: खबरों के अनुसार जहां एक तरफ सीएम रिकवरी का दावा कर रहे हैं वहीं श्मशानों में जगह कम पड़ गए हैं। हाल ही में कई मीडिया रिपोर्ट में ये बात सामने आयी थी कि कानपुर से लेकर बिहार बॉर्डर तक गंगा नदी में हजारों शव मिले थे। जिसके बाद राज्य सरकार की जमकर आलोचना हुई थी।

दवा और ऑक्सीजन के अभाव में भी हुई है मौत: ऑक्सीजन और रेमडेसिविर के अभाव में भी कई जगहों पर मरीजों की मौत की खबर है। एक तरफ जहां योगी इस बात का दावा कर रहे हैं राज्य में किसी भी तरह की परेशानी नहीं है वहीं कई खबरों में ये बात देखी गयी की इलाज और अस्पताल के अभाव में लोगों की मौत हो गयी।

योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि प्रदेश कोरोना वायरस की सर्वाधिक जांच करने वाला राज्य बन गया है जहां प्रतिदिन औसतन 2.5 लाख नमूनों की जांच की जा रही है। प्रदेश में अब तक तीन करोड़ लोगों को कोविड रोधी टीका मुफ्त लगाया जा चुका है। लेकिन सच्चाई यह है कि उत्तर प्रदेश देश में सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य है। ऐसे में आबादी के अनुपात में जांच और टीकाकरण में अब भी उत्तर प्रदेश पिछड़ रहा है।

Next Stories
1 DRDO 2-DG Covid Medicine: कोरोना से जंग के लिए DRDO का हथियार तैयार, जानें डोज, साइड इफेक्‍ट्स, कीमत
2 Redmi, Realme, Poco जैसे ब्रांड दे रहे हैं 8,000 रुपये से कम में ये 5 स्मार्टफोन, जानें स्पेसिफिकेशन
3 COVID-19 पैनल से टॉप वायरोलॉजिस्ट शाहिद जमील का इस्तीफा, कोरोना को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार की नीति पर दागे थे सवाल
ये पढ़ा क्या?
X