ताज़ा खबर
 

गांव दहला रहा कोरोना! रोहतक में 10 दिन में बुखार से 18 मौतें, तो गाजीपुर में हफ्ते भर में गईं 16 जान

सोमवार को गांव के 75 लोगों की जांच की गयी जिनमें से 15 पॉजिटिव पाए गए। पिछले 10 दिनों में 159 लोग इस गांव में संक्रमित पाए गए हैं।

Updated: May 11, 2021 4:11 PM
आर्य समाज की तरफ से टिटोली गांव में एक हवन का आयोजन किया गया यह मानते हुए कि हवन से कोरोना संकट दूर हो जाएगा (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस /मनोज ढाका)

कोरोना का कहर अब दिल्ली, मुंबई महानगरों से आगे गांव की तरफ बढ़ने लगा है। हरियाणा के रोहतक जिले के टिटोली गांव में पिछले 10 दिनों में कम से कम 18 लोगों की मौत “रहस्यमयी बुखार” से हुई है। जिनमें से 6 मौत कोविड से होने की पुष्टि हो चुकी है। वहीं यूपी के गाजीपुर में खांसी-बुखार से हफ्ते भर में 16 लोगों की मौत हुई है।

दिल्ली से लगभग 60 किलोमीटर दूर स्थित रोहतक के टिटोली गांव में एक कोविड केंद्र की स्थापना की गयी है। गांव के सरपंच के हवाले से बताया गया है कि पिछले हफ्ते, मैंने 32 व्यक्तियों की सूची तैयार की, जिनकी हाल ही में मृत्यु हुई है। गांव में बुखार से औसतन दो लोगों की हर दिन मौत हो रही है। सभी आयु वर्ग के लोग इस बुखार का शिकार हो रहे हैं। बुखार से मरने वालों में छह की उम्र 35 से कम थी।

सोमवार को गांव के 75 लोगों की जांच की गयी जिनमें से 15 पॉजिटिव पाए गए। पिछले 10 दिनों में 159 लोग इस गांव में संक्रमित पाए गए हैं। रोहतक के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. अनिल बिड़ला ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस बार गांवों में कोरोनवायरस अधिक फैल रहा है। ग्रामीण एक दूसरे से अधिक मिल रहे हैं। वे एक साथ ताश खेलते हैं और हुक्के पीते हैं। बुखार के असर का पता लगाने के लिए हम जिले के सभी गांवों से नमूने एकत्र कर रहे हैं। अब हमारे सामने जब भी बुखार के रोगी आते है तो हम उनका कोविड टेस्ट कराते हैं।

रोहतक के टिटोली गांव के सुरेश कुमार ने बताया कि हम वायरस की जांच को लेकर प्रशासन के प्रयासों से संतुष्ट हैं। लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि गांव में अब तक राजनीतिक दलों की तरफ से कोई मदद नहीं की जा रही है। गांव में आर्य समाज भवन में 20 बेड वाला कोविड सेंटर अगले दो दिनों में बनकर तैयार हो जाएगा।

इधर उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में भी कोरोना से एक ही गांव में 16 लोगों की मौत की खबर है। सौरम गांव के प्रधान ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर चिंता जतायी है। प्रधान के पत्र के बाद जिलाधिकारी ने गांव में मजिस्ट्रेट और स्वास्थ्य विभाग की टीम को भेजने का निर्देश दिया है।

Next Stories
1 अजीज प्रेमजी विवि का दावा- कोरोना से अर्थव्यवस्था चौपट, 23 करोड़ लोगों के लिए 375 रुपये की दिहाड़ी कमानी हुई मुश्किल
2 विराट कोहली ने लगवाया टीका, लोग पूछने लगे- इन्हें कैसे मिल गया अप्वॉइंटमेंट? ये VIP ट्रीटमेंट है
3 चुनावी सभाएं रहीं ‘सुपर स्प्रेडर’, PM ने न पहना मास्क, संदेश गया कि कोई दिक्कत नहीं- सैम पित्रोदा का निशाना
ये  पढ़ा क्या?
X