ताज़ा खबर
 

CAA विरोधी रैली में दिया था भाषण, यूपी के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी पर भड़काऊ बयान देने का मामला दर्ज

CAA: उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल कुरैशी पर इससे पहले सीएए के खिलाफ कैंडल मार्च निकालने के लिए भी मामला दर्ज हो चुका है

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र मुरादाबाद | Updated: February 26, 2020 10:02 PM
उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी।

उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में केस दर्ज हुआ है। बताया गया है कि कुरैशी ने यह भाषण 22 फरवरी को मुरादाबाद के इदगाह मैदान में सीएए के विरोध में हुई रैली में दिया था। उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 143, 145, 149 और 188 के तहत केस दर्ज किया है।

रैली में साधा प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह पर निशाना
पूर्व राज्यपाल ने सीएए के विरोध में हुई रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा था। उन्होंने इस कानून को असंवैधानिक करार देते हुए कहा था कि मोदी और शाह के पास लोगों से भेदभाव करने का कोई अधिकार नहीं है। कुरैशी ने इतिहास का जिक्र करते हुए कहा कि 1200 साल के इतिहास में मुस्लिमों ने इस देश के लिए काफी बलिदान दिया है। 1857 की क्रांति में भी मुस्लिमों ने बलिदान दिया था।

कुरैशी के मुताबिक, “महात्मा गांधी और जवाहर लाल नेहरू ने हमेशा हिंदू भारत के विचार की खिलाफत की। आज मोदी और शाह बांटने वाली राजनीति कर रहे हैं और डिटेंशन कैंप बना रहे हैं। उन्हें ऐसा करने का कोई अधिकार नहीं है।”

लखनऊ में सीएए के विरोध में निकाला था कैंडल मार्च:
अजीज कुरैशी सीएए कानून के संसद में पास होने के बाद से ही इसके विगरोध में जुटे हैं। पिछले महीने उन्होंने लखनऊ में सीएए और एनआरसी के खिलाफ कैंडल मार्च निकाला था। इसके बाद यूपी पुलिस ने कुरैशी के खिलाफ केस दर्ज किया था।
दिल्ली हिंसा से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

Next Stories
1 ‘दिल्ली जल रही थी और पीएम मोदी प्रेजिडेंट ट्रंप के लिए पार्टी दे रहे थे’, विदेशी मीडिया में दिल्ली हिंसा और ट्रम्प के दौरे पर कड़ी टिप्पणी
ये पढ़ा क्या?
X