ताज़ा खबर
 

Coronavirus Lockdown में तीन महीने के लिए क्या आपके कार लोन की हो गई है किश्तें माफ? जानें अपने सभी सवालों के जवाब

अक्सर लोगों में इस बात का डर बना रहता है कि अगर हम कार या अन्य लोन की किश्त को नहीं भरते हें तो क्रेडिट स्कोर खराब हो जाता है, जिसके चलते हम बैंक के लिए डिफ़ॉल्टर बन जाते हैं।

आपके लोन की ईएमआई को माफ नहीं किया गया है, सिर्फ लॉकडाउन के कारण इसकी अवधि को बढ़ा दिया गया है।

Car Laon EMI: देश भर में आज कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन है, इस तालाबंदी ने देश की आर्थिक व्यवस्था के पहिए को बंद कर दिया है। रोजगार वालों की सैलरी को कंपनियां नुकसान के कारण काट रही हें, तो बिजनेस पूरी तरह से ठप है। देश की करीब 80 प्रतिशत जंनसंख्या वर्तमान में एक बड़े सवाल का सामना कर रही है। कि आखिर इस तालाबंदी के कम सैलरी में किस तरह से बैंक की EMI की पूर्ति करेंगे। फिलहाल इस पर राहत देते हुए आरबीआई ने तो साफ कर दिया है कि EMI को तीन महीने के लिए अगर बैंक चाहे तो रोक सकता है। आइए आपको बताते हैं आपकी कार ईएमआई से जुड़े उन सभी सवालों के जवाब जिन्हें लेकर असमंजस बना हुआ है।

EMI माफ हुई या अवधि बढ़ाई गई ?: आपके लोन की ईएमआई को माफ नहीं किया गया है, सिर्फ लॉकडाउन के कारण इसकी अवधि को बढ़ा दिया गया है, यानी अगर आप अप्रैल, मई और जून की ईएमआई नहीं भरते हैं तो ये तीन महीने आपकी लोन की अवधि में बढ़ा दिए जाएंगे। मान लिजिए आपका लोन 5 साल का है, तो अब यह अवधि 5 साल तीन महीने की हो जाएगी। वहीं इन तीन महीनों का ब्याज आपकी लोन अमाउंट पर जोड़ दिया जाएगा।

ईएमआई से किसको मिली राहत: RBI ने पहले ही साफ कर दिया है, कि इस बात का निर्णय आपकी लोन लेने वाली संस्था पर निर्भर है। वहीं कुछ बैंक लोन लेने वाले ग्राहको को एक एसएमएस के जरिए सूचित कर रहे हैं कि अगर आप ईएमआई देने में समर्थ है, तो अवश्य दें। वहीं अगर आप किश्त नहीं देना चाहते हें तो बैंक को इसके बारे में सूचित करेंं। बता दें, कुछ बैंको ने ईएमआई को तीन महीने तक ना लेने का भी फैसला लिया है। इसके बारे में अधिक सूचना आप अपनी लोन संस्था की अधिकाारिक वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं।

क्या ईएमआई ना देने का क्रेडिट स्कोर पर पड़ेगा असर: अक्सर लोगों में इस बात का डर बना रहता है कि अगर हम कार या अन्य लोन की किश्त को नहीं भरते हें तो क्रेडिट स्कोर खराब हो जाता है, जिसके चलते हम बैंक के लिए डिफ़ॉल्टर बन जाते हैं। हालांकि इस समय यह लागू नहीं होता है, क्योंकि बैंक अपनी मर्जी या आपकी इच्छानुसार किश्त को आगे बढ़ा रहा है। तो इस बात से बिल्कुल परेशान ना हो। अगर आप किश्त नहीं भर पा रहे हें तो तीन महीने के लिए आप इसे आगे बढ़ायें और क्रेडिट स्कोर खराब होने की परेशानी भूल जाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories