ताज़ा खबर
 

वेंकैया नायडू ने घर पर दी शानदार दावत, पर मेहमानों को खाने के लिए नहीं मिला पूरा वक़्त तो बोले- पैक कर ले जाइए

एक समय ऐसे हालात बन गए कि मेजबान नायडू को अपने मेहमानों से कहना पड़ा कि वो चाहें तो लंच पैक करा कर अपने साथ ले जा सकते हैं।

केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू के घर पर तेलुगू नववर्ष ‘उगादी’ के कार्यक्रम का और पीएम मोदी कलाकारों के साथ।

केंद्रीय शहरी विकास तथा सूचना व प्रसारण मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को दिल्ली स्थित अपने आवास पर तेलुगू नववर्ष उगादी पर उगादी मिलन समारोह का आयोजन किया। इस मौके पर एक शाही भोज का भी प्रबंध किया गया था। भोज में दक्षिण भारत के तमाम मशहूर पकवान शामिल थे। शाकाहारी से लेकर मांसाहारी व्यंजनों तक की व्यवस्था की गई। इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। लेकिन प्रधानमंत्री के आने से पहले ही बड़ी संख्या में मेहमान वहां पहुंच चुके थे। वहां पहुंचे मेहमानों ने वेंकैया नायडू को इस मौके पर बधाईयां दी। लोगों ने वहां शाही भोज के भी खूब मजे लिए। लेकिन एक समय ऐसे हालात बन गए कि मेजबान नायडू को अपने मेहमानों से कहना पड़ा कि वो चाहें तो लंच पैक करा कर अपने साथ ले जा सकते हैं। दरअसल प्रधानमंत्री के पहुंचने से पहले प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय मंत्री को ये फैसला लेना पड़ा।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA1 Dual 32 GB (White)
    ₹ 17895 MRP ₹ 20990 -15%
    ₹1790 Cashback
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41999 MRP ₹ 52370 -20%
    ₹6000 Cashback

प्रधानमंत्री के पहुंचने का वक्त हो रहा था। वहां मौजूद मेहमानों को समारोह स्थल खाली करना था। लेकिन वेंकैया नायडू ने एक अच्छे मेजबान का फर्ज अदा करते हुए अपने मेहमानों से कहा कि जिन लोगों ने भी अभी तक भोजन नहीं किया है वो चाहें तो लंच पैक करा कर ले जा सकते हैं। मेहमानों को भी इस बात का शायद ही अंदाजा हो कि उनके लिए ऐसी व्यवस्था भी की जा सकती है। वहां आए सारे मेहमान नायडू की इस मेहमाननवाजी की तारीफ करने से नहीं चूके। फिलहाल थोड़ी देर में वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंच गए।

समारोह में पहुंचे प्रधानमंत्री ने नव वर्ष पर देश को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि त्योहार प्रकृति के बदलते पहलुओं का प्रतिबिंब है और हमारी संस्कृति और परंपराओं से जुड़े हैं। समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया। मेहमानों के लिए कलाकारों ने जटायु मोक्षम की प्रस्तुति की।

पीएम मोदी ने कलाकारों की प्रशंसा करते हुए जटायु मोक्षम की जमकर सराहना की। प्रधानमंत्री ने कहा कि जटायु का संघर्ष हम सब के लिए प्रेरणा है। जटायु ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ते हुए अपने प्राण कुर्बान कर दिए थे। इस समारोह में प्रधानमंत्री के साथ ही लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, कानून एवं न्याय मंत्री रवि शंकर प्रसाद, पर्यटन और संस्कृति मंत्री महेश शर्मा, सूचना व प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, खेल और युवा मामलों के मंत्री विजय गोयल, आईएंडटी राज्य मंत्री कर्नल बीके राठौर सहित अनेक सांसद, उच्चतम न्यायालय व उच्च न्यायालय के न्यायाधीश तथा अधिकारी भी उपस्थित थे।

कार्यक्रम की मेजबानी करते हुए वेंकैया नायडू ने कहा कि भारतीय कैलेंडर के अनुसार उगादी नए साल की शुरुआत है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि उगड़ी पछाड़ी छह अलग-अलग स्वादों का एक संयोजन है जिसमें मिठाई, खट्टा, मसालेदार या तीखा, नमकीन, कसैले और कड़वे से मिलकर बनती है जो खुशी, घृणा, क्रोध, भय, आश्चर्य और उदासी के विभिन्न भावनाओं का प्रतीक है।

VIDEO: “टीवी चैनलों को अब हर साल अपना लाइसेंस रिन्यू करवाने की ज़रूरत नहीं”: वैंकेया नायडू

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App