ताज़ा खबर
 

अदालत ने लगाई कपिल शर्मा के खिलाफ FIR पर रोक, अवैध निर्माण का लगा है आरोप

प्राथमिकी में कपिल पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने शहर के गोरेगांव इलाके में अपनी फ्लैट में अनधिकृत तरीके से निर्माण-कार्य कराया

Author March 23, 2017 19:16 pm
कपिल शर्मा ने पिछले साल 7 नवंबर को मुंबई के अंधेरी पश्चिम में बंगला खरीदा था। (file photo)

बंबई उच्च न्यायालय ने कॉमेडियन कपिल शर्मा के खिलाफ दर्ज एक प्राथमिकी पर आज रोक लगा दी। प्राथमिकी में कपिल पर आरोप लगाया गया था कि उन्होंने शहर के गोरेगांव इलाके में अपनी फ्लैट में अनधिकृत तरीके से निर्माण-कार्य कराया । न्यायालय ने बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) को पांच हफ्ते के भीतर विवाद सुलझाने का निर्देश दिया। न्यायमूर्ति एन एच पाटिल और न्यायमूर्ति एम एस कार्णिक की खंडपीठ कपिल और बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान की ओर से दाखिल याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी। कपिल और इरफान ने अप्रैल और सितंबर 2016 में बीएमसी की ओर से उन्हें जारी किए गए नोटिस को चुनौती दी थी। नोटिस में उन्हें निर्देश दिए गए थे कि वे ‘डीएलएच एनक्लेव’ में अपनी फ्लैटों में किए गए कथित अवैध निर्माण को तोड़ें।

बीएमसी ने आज न्यायालय को बताया कि कानूनी विशेषज्ञों से विचार-विमर्श के बाद उसने कपिल और इरफान को जारी नोटिस वापस लेने का फैसला किया है। बीएमसी के वकील एन वालावलकर ने न्यायालय को बताया कि चूंकि नोटिस वापस ले लिए गए हैं, इसलिए इमारत के निर्माणकर्ता डीएलएच प्राइवेट लिमिटेड की ओर से नोटिसों के खिलाफ दायर दीवानी मुकदमा और उच्च न्यायालय में दाखिल याचिकाएं ‘‘अर्थहीन’’ हो गई हैं। इसके बाद न्यायालय ने पिछले साल सितंबर में बीएमसी की ओर से कपिल के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी पर रोक लगा दी। गोरेगांव में अवैध निर्माण मामले में यह प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

कॉमेडियन कपिल शर्मा पर बंगले में अवैध निर्माण करने का आरोप लगा है जिसके बाद बीएमसी ने उन्हें नोटिस भी भेजा था। कपिल शर्मा ने पिछले साल 7 नवंबर को मुंबई के अंधेरी पश्चिम में म्हाडा कॉलोनी के अंतर्गत आने वाले फोर बंगलोज इलाके में बंगला नंबर 71 खरीदा था।

दरसअल कपिल शर्मा ने ट्वीट कर बीएमसी के एक अफसर पर 5 लाख रुपये मांगने का आरोप लगाया था और सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अच्छे दिन पर सवाल उठाया था। उसके बाद से ही कपिल के बुरे दिन शुरू हो गए। पता चला कि कपिल का वो दफ्तर अवैध है। उसकी  वजह से मैंग्रोव का भी नुकसान हुआ है। मामले में वन विभाग के सक्रिय होने के बाद बीएमसी भी सक्रिय हो गई और उस बंगले के साथ गोरेगांव में कपिल के फ्लैट पर फिर से कार्रवाई का नोटिस पकड़ा दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App