ताज़ा खबर
 

जाकिर नाईक ने टाइम्‍स नाऊ और अरनब गोस्‍वामी पर ठोका 500 करोड़ का मानहानि का केस

इस्‍लामिक उपदेशक डॉ. जाकिर नाईक ने न्‍यूज चैनल टाइम्‍स नाऊ और उसके एडिटर इन चीफ अरनब गोस्‍वामी को 500 करोड़ रुपये का मानहानि का नोटिस भेजा है।

Author नई दिल्ली | July 29, 2016 10:18 am
विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक

इस्‍लामिक उपदेशक डॉ. जाकिर नाईक ने न्‍यूज चैनल टाइम्‍स नाऊ और उसके एडिटर इन चीफ अरनब गोस्‍वामी को 500 करोड़ रुपये का मानहानि का नोटिस भेजा है। फर्स्‍टपोस्‍ट की रिपोर्ट के अनुसार, नाईक ने यह नोटिस उनके खिलाफ हेट कैम्‍पेन और मीडिया ट्रायल चलाने के खिलाफ भेजा है। जाकिर नाईक के वकील मुबीन सोलकर की ओर से भेजे गए नोटिस में चैनल पर धार्मिक समुदायों के बीच वैर और घृणा फैलाने और नाईक व मुस्लिम समुदाय की धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाया है।  नोटिस में लिखा है, ”आपने मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाई है।”

जाकिर नाईक वर्तमान में विदेश में हैं। उनके खिलाफ कई एजेंसियां इस्‍लामिक स्‍टेट से जुड़े आतंकियों को ढाका में हमला करने के लिए उकसाने के मामले की जांच कर रही है। यह आरोप लगने के बाद से नाईक भारत नहीं आए हैं और वीडियो कांफ्रेंस के जरिए मीडिया से बात की है। उन्‍होंने मीडिया पर ट्रायल चलाने का आरोप लगाया है। हालांकि उन्‍होंने पहली बार किसी न्‍यूज चैनल को नोटिस भेजा है। गौरतलब है कि ढाका हमले से जुड़े कुछ आतंकी जाकिर नाईक से प्रेरित थे। इसके बाद से जाकिर नाईक पर शिकंजा कस गया था। बांग्‍लादेश सरकार ने नाईक की पीस टीवी पर बैन लगा दिया था। वहीं भारत सरकार ने भी जांच के आदेश दे दिए थे।

जबरन धर्म परिवर्तन कराने वाले जाकिर नाईक के खिलाफ मुसलिम नेताओं ने उठाई आवाज

पिछले दिनों केरल पुलिस और महाराष्‍ट्र एटीएस ने जाकिर नाईक के साथी अर्शिद कुरैशी को गिरफ्तार किया था। कुरैशी नाईक के संगठन इस्‍लामिक रिसर्च फाउंडेशन(आईआरएफ) का गेस्‍ट रिलेशन ऑफिसर है। इस संगठन पर युवाओं को रेडिकलाइज करने का आरोप है। आईआरएफ पर सऊदी अरब से पैसे लेने का आरोप भी है। साथ ही यह भी आरोप है कि इस पैसे के जरिए वह धर्मांतरण का काम करता है।

जाकिर नाईक का सहयोगी गिरफ्तार, युवाओं के धर्म परिवर्तन और IS में भर्ती करवाने के आरोप

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App