ताज़ा खबर
 

वेडिंग कार्ड पर छिड़ी NRC-CAA की जंग, मेहमानों से यूं कर रहे कानून को समझने की अपील

युवक-युवतियों ने अपनी शादी के कार्ड पर लिखवाया है, 'मैं नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में जागरुकता फैलाना चाहता हूं। मैं चाहता हूं कि लोग इस अधिनियम के तथ्यों को समझें।'

CAA- NRC का समर्थन (फोटो सोर्स: ANI)

देशभर में इन दिनों नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर बवाल जारी है। इस मुद्दे को लेकर देश दो धड़ों में बंट चुका है। इसी बीच अब लोग अपने-अपने तरीके से इसका विरोध और समर्थन कर रहे हैं। दो युवक-युवतियों ने अपनी शादी के कार्ड के जरिये CAA का समर्थन किया है। ये दोनों मामले मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर और उत्तर प्रदेश के संभल जिले से सामने आए हैं। इसी तरह विरोध के भी मामले सामने आए हैं।

‘मैं चाहता हूं लोग कानून को समझें’: नरसिंहपुर जिले के रहने वाले प्रभात की शनिवार (18 जनवरी) को शादी है। उन्होंने केंद्र सरकार की तरफ से लाए गए नागरिकता संशोधन अधिनियम का समर्थन किया है। उन्होंने अपनी शादी के कार्ड पर लिखवाया है, ‘मैं नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में जागरुकता फैलाना चाहता हूं। मैं चाहता हूं कि लोग इस अधिनियम के तथ्यों को समझें।’

Hindi News Live Hindi Samachar 18 January 2020: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

विरोध में भी ऐसा ही माहौलः केरल के एक युवक ने अपनी शादी में स्टेज पर एक बोर्ड लगवाया। इस पर उन्होंने शादी में आने वाले मेहमानों का स्वागत करने के साथ-साथ नागरिकता संशोधन अधिनियम को खारिज करने की अपील की।

CAA CAA का विरोध (फोटो सोर्स: @प्रियरंजन)

CAA के साथ NRC का भी समर्थनः उत्तर प्रदेश संभल जिले में भी समर्थन करने का एक मामला सामने आया है। यहां रहने वाले मोहित मिश्रा और सोनम पाठक 3 फरवरी को शादी करने जा रहे हैं। उन्होंने अपने वेडिंग कार्ड पर नागरिकता संशोधन अधिनियम के साथ-साथ राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (NRC) का भी समर्थन किया है। सोशल मीडिया पर इन दोनों की तस्वीरें खूब वायरल हो रही हैं।

इससे पहले शादी के कार्ड पर चुनावी विरोध और समर्थन के साथ-साथ कई मामलों पर जागरूकता संदेश देने के उदाहरण सामने आ चुके हैं। उत्तराखंड में ऐसे ही एक मामले में चुनावी उम्मीदवार का समर्थन करना एक परिवार को भारी पड़ गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X
Next Stories
1 यूपी सरकार के प्रोग्राम में अधूरी रह गई कथक डांसर की परफॉर्मेंस, अधिकारी बोले- कव्वाली नहीं चलेगी
2 Delhi Election 2020: सिख नेताओं में अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नाराजगी, एक एमएलए ने किया AAP छोड़ने का ऐलान
3 सिर्फ पीलीभीत में 95000 शरणार्थी, यूपी सरकार ने CAA लागू होने से पहले ही शुरू करवाया सर्वे, जिलों को भेजे स्पेशल फॉर्म!
ये पढ़ा क्या?
X