ताज़ा खबर
 

कश्मीरी पंडितों को जबरन मुसलमान बनाता था औरंगज़ेब: आदित्य नाथ

पिछले दिनों योगी आदित्यनाथ ने अपने एक बयान में कहा था कि मुगल बादशाह अकबर महान नहीं था और 16वीं शताब्दी के मेवाड़ राजा महाराणा प्रताप महान थे।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। (express photo)

मुगल बादशाह अकबर पर निशाना साधने के बाद अब उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक और मुगल शासक औरंगज़ेब को निशाने पर लिया है। योगी आदित्यनाथ ने औरंगज़ेब पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुगल शासक ने कश्मीरी पंडितों को धर्मांतरण के लिए मजबूर किया था। लखनऊ में बंजारा समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कश्मीरी पंडितों पर जब औरंगज़ेब का अत्याचार प्रारंभ हुआ तो औरंगजेब से मुक्ति के लिए कश्मीरी पंडितों का एक ग्रुप गुरु तेग बहादुर के पास दिल्ली में आता है और अपनी पीड़ा बताता है कि जबरदस्ती हमारा धर्मांतरण हो रहा है।

कश्मीरी पंडितों ने गुरु तेग बहादुर को बताया कि हमें दबाया जा रहा है…अपमानित किया जा रहा है। बता दें क गुरु तेग बहादुर सिखों के नौवें गुरु थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगे बताया कि गुरु तेग बहादुर कश्मीरी पंडितों के बचाव में आगे आए और उन्होंने कश्मीरी पंडितों से कहा कि औरंगज़ेब को जाकर कहो कि वह धर्मांतरण के लिए तैयार हैं, लेकिन तभी जब उनके गुरु धर्मांतरण करेंगे। औरंगज़ेब को लगा कि ये तो बहुत आसान काम है और औरंगजेब ने गुरु तेग बहादुर को गिरफ्तार करके अनेक प्रकार की यातनाएं देनी शुरु कर दी, लेकिन गुरु तेग बहादुर को टस से मस नहीं कर पाया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उस वक्त बंजारा समुदाय के लोग गुरु तेग बहादुर के सम्मान के लिए खड़े हुए थे और इसलिए बंजारा समुदाय के लोगों को देश और समाज के लिए किए गए अपने पूर्वजों को प्रयासों पर गर्व करना चाहिए। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों योगी आदित्यनाथ ने अपने एक बयान में कहा था कि मुगल बादशाह अकबर महान नहीं था और 16वीं शताब्दी के मेवाड़ राजा महाराणा प्रताप महान थे। योगी ने महाराणा प्रताप की तारीफ करते हुए कहा कि अरावली की पहाड़ियों में कई सालों तक लड़ने के बाद महाराणा प्रताप ने अपना राज्य वापस जीता था और अकबर को राजा मानने से भी इंकार कर दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App