ताज़ा खबर
 

योगी आदित्यनाथ ने हाफिज़ से की शाहरुख की तुलना और कहा पाकिस्तान लौट जाएं किंग खान

योगी आदित्यानाथ ने बीजेपी महासचिव विजयवर्गीय के ट्वीट समर्थन करते हुए कहा, 'हाफिज सईद और शाहरुख खान की भाषा में कोई अंतर नहीं है। शाहरुख को यह नहीं भूलना चाहिए कि अगर देश के बहुसंख्यक उनकी फिल्मों का बायकॉट कर दें तो वह दूसरे मुसलमानों की तरह सड़क पर आ जाएंगे।'

Author लखनऊ | November 4, 2015 4:36 PM

कैलाश विजयवर्गीय और साध्वी प्राची के बाद बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ ने बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान पर हमला बोला है। उन्होंने शाहरुख की तुलना हाफिज़ सईद से कर डाली। योगी आदित्यानाथ ने बीजेपी महासचिव विजयवर्गीय के ट्वीट समर्थन करते हुए कहा, ‘हाफिज सईद और शाहरुख खान की भाषा में कोई अंतर नहीं है। शाहरुख को यह नहीं भूलना चाहिए कि अगर देश के बहुसंख्यक उनकी फिल्मों का बायकॉट कर दें तो वह दूसरे मुसलमानों की तरह सड़क पर आ जाएंगे।’

इतना ही नहीं आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि शाहरुख को पाकिस्तान चले जाना चाहिए। गौरतलब है कि हाफिज सईद ने शाहरुख खान के बयान पर विवाद के बाद ट्वीट करके कहा, ‘कोई भी मुस्लिम, यहां तक की शाहरुख जो मुस्लिम होने के चलते भारत में दिक्कतें और भेदभाव का सामना कर रहे हैं, उनका पाकिस्तान में रहने के लिए स्वागत है।’

गौरतलब है कि कैलाश विजयवर्गीय के एक ट्विट से देशभर में सहिष्णुता को लेकर जबरदस्त घमासान मचा हुआ है। ऐसे में किंग खान पर बयान देकर योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर विवादित बयान देते हुए कहा कि अगर हिंदू शाहरुख खान की फिल्में देखना छोड़ दें तो उन्हें सड़कों पर टहलना पड़ जाएगा। शाहरूख ने दोहराई गलती और पीछे पड़ा हाफिज सईद शाहरूख को ‘देशद्रोही’ कहने वाले बीजेपी नेता ने बयान वापस लिया आदित्यनाथ ने शाहरुख और आतंकी हाफिज सईद के बयानों को एक जैसा बता डाला है।

उन्होंने कहा कि शाहरुख को इस बात को समझना चाहिए अगर हिंदुओं ने उनकी फिल्म देखना छोड़ दी तो क्या होगा। गौरतलब है कि अपने जन्मदिन के मौके पर शाहरुख ने कहा था कि देश में असहिष्णुता बढ़ रही है। शाहरुख के बयान के बाद कई नेताओं ने उनपर हमला बोला था। मध्यप्रदेश में भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने का शाहरुख को पाकिस्तान का एजेंट तक करार दे दिया था। लेकिन विवाद बढ़ने के बाद उन्होंने अपना बयान वापस ले लिया था।

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करें, गूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App