BJP वाले सोचते हैं कि टीवी स्टूडियो में वही एंकर हैं- डिबेट में योगेंद्र यादव का तंज

किसान आंदोलन के प्रमुख चेहरों में से एक योगेंद्र यादव ने एक टीवी चैनल डिबेट के दौरान बीजेपी प्रवक्ता पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी वाले सोचते हैं कि टीवी स्टूडियो में वही एंकर हैं।

Yogendra Yadav
योगेंद्र यादव ने डिबेट शो के दौरान बीजेपी नेता पर कसा तंज। Photo- Indian Express

किसान आंदोलन के प्रमुख चेहरों में से एक योगेंद्र यादव ने एक टीवी चैनल डिबेट के दौरान बीजेपी प्रवक्ता पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी वाले सोचते हैं कि टीवी स्टूडियो में वही एंकर हैं। उन्होंने कहा कि चर्चा में शामिल हुए दूसरे लोगों को भी बोलने का मौका देना चाहिए। समाचार चैनल न्यूज 24 के ‘राष्ट्र की बात’ कार्यक्रम में योगेंद्र यादव ने बीजेपी प्रवक्ता केके शर्मा से सवाल पूछा कि क्या आपको लगता है कि विपक्ष के चलते यह किसान आंदोलन इतने लंबे समय से चल रहा है। क्या विपक्ष की बदौलत लाखों करोड़ों किसान इस मुहीम में जुड़ पाए।

योगेंद्र यादव ने कहा कि इस देश में बीजेपी समेत किसी भी पार्टी की इतनी औकात नहीं है कि वह सर्दी, गर्मी, बरसात समेत दूसरी परेशानियों का सामना करते हुए लाखों लोगों को सड़कों पर बिठा सके। जिस दिन किसी पार्टी की इतनी ताकत हो जाएगी वह बिना किसी रोकटोक के संसद के अंदर बैठेगी। योगेंद्र यादव ने किसान संसद पर बात करते हुए कहा कि आज सड़क और संसद का रिश्ता पुन: परिभाषित हुआ। यहां उन्होंने राम मनोहर लोहिया को याद करते हुए कहा कि लोहिया कहते थे कि अगर सड़क सुनी हो जाएगी तो संसद आवारा हो जाएगा। सड़क पर आंदोलन होगा तभी संसद ठीक रह सकती।

योगेंद्र यादव ने कहा कि आज तस्वीर पलटी है, पहले सांसद, सदन के अंदर बोलते थे और जनता दर्शक दीर्घा में जाकर उनकी बातों को सुनती थी। आज किसान संसद में किसान अपनी बात रख रहे हैं और सांसद अनुशासन के साथ दर्शक दीर्घा में बैठे किसानों की बाते सुन रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह ऐसा क्षण है, जिसे लोकतंत्र में कई सालों तक याद किया जाएगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि शुक्रवार को विपक्षी नेताओं का एक दल जंतर मंतर पर चल रही किसान संसद में शामिल होने पहुंचा था। जंतर मंतर पर यह किसान हर रोज सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक किसानों की संसद लगाते हैं। यह किसान केंद्र सरकार के कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

किसान संसद में पहुंचे विपक्षी दल में से राहुल गांधी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि विपक्ष, हिंदुस्तान के सभी किसानों को पूरा समर्थन देने पहुंचा है। उन्होंने कहा कि इन कानूनों को रद्द करना ही होगा। बताते चलें कि विपक्ष के इस प्रदर्शन में ममता बनर्जी की TMC, मायावती की BSP और अरविंद केजरीवाल की AAP ने हिस्सा नहीं लिया।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट