ताज़ा खबर
 

डेरा सच्‍चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को द्रोणाचार्य पुरस्‍कार द‍िलाना चाहता है योग फेडरेशन ऑफ इंड‍िया

बता दें कि सिंह को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड के लिए भी सिफारिश की गई है। उनके नाम की सिफारिश दो कोचों के लिए की गई है, जिन्होंने 20 साल की अवधि में उत्कृष्ट खिलाड़ियों को पहचान दी।

Author May 30, 2017 3:55 PM
डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह (File Photo)

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख और जट्टू इंजीनियर में कॉमेडी से अपने शिष्यों को गुदगुदाने वाले संत गुरमीत राम रहीम सिंह को जल्द ही द्रोणाचार्य अवार्ड से सम्मानित किया जा सकता है। योग फेडरेशन ऑफ इंडिया (वाईएफआई) ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख की फिल्म ‘MSG: The Warrior Lion Heart’ और ‘जट्टू इंजीनियर’ के लिए द्रोराचार्य पुरस्कार से सम्मानित करने की सिफारिश की है। वाईएफआई ने ‘विश्व चैंपियन योगी’ बनाने के लिए पिछले महीने खेल मंत्रालय को उनका नाम भेजा था। वाईएफआई के अध्यक्ष अशोक कुमार अग्रवाल ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ को कहा कि सिंह के प्रशिक्षु नीलम और करमदीप ने पिछले साल विश्व और एशियाई कप में पदक जीता था, जिस वजह से उनका नाम खेल मंत्रालय को भेजा गया है।

अग्रवाल ने कहा, “खेल में उनका योगदान काफी सराहनीय रहा है। उन्होंने कई योग सितारों को तराशा है, जो विश्व और एशियाई चैंपियनशिप में अपना दमखम दिखाए हैं। इसलिए खेल मंत्रालय की नीति के अनुसार उन्हें द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए के लिए सम्मानित करने स्तर सहित कई अंतरराष्ट्रीय योग सितारों को जन्म दिया है। इसलिए खेल मंत्रालय की नीति के अनुसार हमने पिछले महीने द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए उनके नाम की सिफारिश की थी।”

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Plus 32GB Venom Black
    ₹ 8925 MRP ₹ 11999 -26%
    ₹446 Cashback
  • Moto C Plus 16 GB 2 GB Starry Black
    ₹ 6916 MRP ₹ 7999 -14%
    ₹0 Cashback

बता दें कि सिंह को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड के लिए भी सिफारिश की गई है। उनके नाम की सिफारिश दो कोचों के लिए की गई है, जिन्होंने 20 साल की अवधि में उत्कृष्ट खिलाड़ियों को पहचान दी। सिंह के प्रवक्ता डॉ आदित्य इंसान ने कहा कि सिरसा में उनकी संस्था 1998 के बाद से लगातार खिलाड़ियों की सहायता कर रही है। वहीं ‘शाह सतनाम जी फाउंडेशन’ द्वारा चलाए जा रहे स्कूल, कॉलेजों और संस्थानों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खत्म कर दिया गया है। इसे सिर्फ संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी ही देख रहे हैं। प्रवक्ता ने कहा, “विराट कोहली, शिखर धवन, अमित मिश्रा, जहीर खान, यूसुफ पठान, आशीष नेहरा, प्रवीण कुमार, जोगिंदर शर्मा और अनगिनत राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों ने यहां टूर्नामेंट खेला है और वे सभी यहां बहुत खुश थे।”

खेल मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि पुरस्कार समिति कुछ ही हफ्तों में अपना अंतिम निर्णय ले लेगा। मंत्रालय ने दो साल पहले ‘प्राथमिक खेल’ की सूची में योग को भी शामिल किया था। हालांकि, पिछले साल दिसंबर में इस नियम को बदल दिया गया था, उस समय फेडरेशन को कुछ अड़चनें आ रही थी

मंत्रालय की नीति के अनुसार द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए नामांकन केंद्र सरकार, भारतीय ओलंपिक संघ, खेल संवर्धन और नियंत्रण बोर्ड और राज्य सरकार / केंद्र शासित प्रदेश के सरकारों द्वारा, मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय खेल संघों से स्वीकार किए जाते हैं। पुरस्कार के लिए पात्र होने के लिए एक कोच को पुरस्कार दिए जाने वाले साल से पहले चार वर्षों की अवधि में उत्कृष्ट उपलब्धि हासिल करनी चाहिए। योग खेल के लिए वाईएफआई ने अपनी वेबसाइट पर दावा किया है कि यह भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन द्वारा मान्यता प्राप्त है। हमारा कर्तव्य नाम सुझाना था। बाकी खेल मंत्रालय पर निर्भर करता है कि वह पुरस्कार दे या फिर न दे।

देखिए वीडियो -पहले आतंकवाद खत्म करो फिर भारत के साथ क्रिकेट खेलना : विजय गोयल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App