ताज़ा खबर
 

YES Bank Crisis: सीबीआई ने येस बैंक संस्थापक राणा कपूर के खिलाफ जांच में 7 ठिकानों पर मारा छापा

एजेंसी का आरोप है कि कपूर ने डीएचएफएल के प्रवर्तक कपिल वाधवन के साथ आपराधिक षड्यंत्र कर येस बैंक के माध्यम से डीएचएफएल को वित्तीय सहायता मुहैया कराई और उसके बदले राणा के परिवार के सदस्यों को अनुचित लाभ मिला।

Author नई दिल्ली | Updated: March 9, 2020 1:14 PM
Yes Bank, RBIबैंक के ग्राहकों के लिए अपना पैसा निकालने की सीमा 50,000 रुपये तय की गई है। (फाइल फोटो PTI)

सीबीआई ने सोमवार को घोटालों से ग्रसित डीएचएफएल द्वारा यस बैंक के सह-संस्थापक राणा कपूर के परिवार को कथित रूप से 600 करोड़ रुपये की रिश्वत देने के मामले में 7 स्थानों पर छापे मारे। अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई अधिकारियों के दल मुंबई में आरोपियों के आवास और आधिकारिक परिसरों में तलाशी ले रहे हैं।

उन्होंने बताया कि एजेंसी का आरोप है कि कपूर ने डीएचएफएल के प्रवर्तक कपिल वाधवन के साथ आपराधिक षड्यंत्र कर येस बैंक के माध्यम से डीएचएफएल को वित्तीय सहायता मुहैया कराई और उसके बदले राणा के परिवार के सदस्यों को अनुचित लाभ मिला।

सीबीआई की प्राथमिकी के अनुसार घोटाला अप्रैल और जून, 2018 के बीच शुरू हुआ, जब यस बैंक ने दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (डीएचएफएल) के अल्पकालिक ऋण पत्रों में 3,700 करोड़ रुपये का निवेश किया था। उन्होंने कहा कि इसके बदले वाधवन ने कथित रूप से कपूर और उनके परिवार के सदस्यों को 600 करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया। उन्होंने कहा कि यह लाभ डीओआईटी अर्बन वेंचर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड को कर्ज के रूप में दिया

Next Stories
1 Coronavirus in India: कर्नाटक और पंजाब में भी कोरोना वायरस की दस्तक, भारत में अबतक कुल 45 मामले
2 कोरोना वायरस के चलते मुश्किल में IPL 2020, महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री बोले- टल सकता है टूर्नामेंट
3 Weather Forecast, Temperature Today: राजस्थान, पूर्वी यूपी में अगले दो दिन तेज बारिश होने की संभावना, हिमाचल प्रदेश में होगी बर्फबारी
ये पढ़ा क्या?
X