ताज़ा खबर
 

Yes Bank Scam: 10 बड़े बिजनेस ग्रुप की 44 कंपनियों पर येस बैंक का 34,000 करोड़ का बैड लोन, 9 अंबानी तो 16 सुभाष चंद्रा से जुड़ी हैं कंपनियां

उद्योगपति अनिल अंबानी ग्रुप की कम से कम नौ कंपनियों पर 12,800 करोड़ रुपए का एनपीए है। इसी तरह सुभाष चंद्र के एस्सेल ग्रुप से संबंधित कम से कम 16 कंपनियों पर 8,400 करोड़ रुपए का एनपीए है।

Translated By Ikram नई दिल्ली | Updated: March 12, 2020 8:31 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

Yes Bank Scam: फाइनेंशियल इंडस्ट्री के भरोसेमंद सूत्रों से मिले आंकड़ों से पता चलता है कि 10 बड़े व्यापारिक समूहों से संबंधित कम से कम 44 कंपनियों पर येस बैंक का 34,000 करोड़ रुपए का बैड लोन है। ये जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब सीबीआई ने सोमवार (9 मार्च, 2020) को येस बैंक के संस्थापक राणा कपूर की पत्नी और तीन पुत्रियों के खिलाफ रिश्वत लेने के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया। साथ ही उनके परिवार को कथित तौर पर रिश्वत देने के मामले में मुंबई में सात स्थानों पर छापेमारी भी की।

जानकारी में सामने आया है कि उद्योगपति अनिल अंबानी ग्रुप की कम से कम नौ कंपनियों पर 12,800 करोड़ रुपए का एनपीए है। इसी तरह सुभाष चंद्र के एस्सेल ग्रुप से संबंधित कम से कम 16 कंपनियों पर 8,400 करोड़ रुपए का एनपीए है। इसके अलावा डीएचएफएल समूह के दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन और विश्वास रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड ने बैंक से 4,735 करोड़ रुपए का कर्ज लिया। बैंक ने इसके अलावा जेट एयरवेज को भी 1,100 करोड़ रुपए का लोन दिया है।

येस बैंक के बैड लोन में केर्कर गुप्र भी है, जिसकी दो कंपनियों कंपनियों कॉक्स एंड किंग्स और गो ट्रेवल्स ने करीब 1,000 करोड़ रुपए का कर्ज लिया, जो बैड लोन में तब्दील होता नजर आता है। ओंकार रियल्टर्स और डेवलपर्स के दो प्रोजेक्ट (2,710 करोड़ रुपए), रेडियस डेवलपर्स (1,200 करोड़ रुपए) और थापर ग्रुप की सीजी पावर (500 करोड़ रुपए) पर बैड लोन है।

बता दें कि येस बैंक में सब कुछ ठीक नहीं है इसका आभास लगता है उसके ग्राहकों को पहले से ही होने लगा था। यही वजह है कि पिछले साल मार्च से सितंबर के बीच खाताधारकों ने 18,100 करोड़ रुपए की जमा पूंजी बैंक से निकाल ली थी। येस बैंक को रिजर्व बैंक ने 3 अप्रैल 2020 तक पाबंदी के दायरे में रखा है। इस दौरान बैंक के खाताधारकों को अपने खाते से 50 हजार रुपए से ज्यादा निकालने की अनुमति नहीं होगी। मार्च 2019 की समाप्ति पर बैंक की कुल जमा राशि 2,27,610 करोड़ रुपए थी।

Next Stories
1 Weather Forecast Highlights: इन इलाकों में बारिश के आसार, जानिए अपने शहर के मौसम का हाल
2 सामने आया कोरोना विषाणु का ‘चेहरा’
3 कोरोना की उत्पत्ति के केंद्र को लेकर मचा राजनीतिक रार
ये पढ़ा क्या?
X