ताज़ा खबर
 

‘प्रधानमंत्री आय संरक्षण’ के खिलाफ सभा करेंगे यशवंत सिन्‍हा

पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा 'प्रधानमंत्री आय संरक्षण' योजना से किसानों को होने वाले नुकसान पर बुधवार को एक आमसभा को संबोधित करेंगे।

पूर्व बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा की फाइल फोटो। (फोटो सोर्स- पीटीआई)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ तल्ख टिप्पणी करने वाले पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ‘प्रधानमंत्री आय संरक्षण’ योजना से किसानों को होने वाले नुकसान पर बुधवार को एक आमसभा को संबोधित करेंगे। यह आमसभा मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले के सोहागपुर में होगी। नर्मदांचल जन जागृति मंच द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने चंद दिन पहले किसानों के हित के नाम पर प्रधानमंत्री आय संरक्षण योजना शुरू की लेकिन सच यह है कि यह किसानों को ठगने और उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए बनी है। इस योजना से किसान और छोटे व्यापारी दोनों का शोषण होगा। विज्ञप्ति के अनुसार, इस योजना की असलियत सभी को बताने के लिए पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा होशंगाबाद जिले के सोहागपुर में आम सभा करेंगे। इस सभा में मुख्य वक्ता पूर्व विधायक गिरजाशंकर शर्मा, बेरोजगार सेना प्रमुख के अध्यक्ष एंव प्रसिद्घ सामाजिक-राजनीतिक कार्यकर्ता विनायक परिहार होंगे।

गौरतलब है कि अप्रैल से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने खुद को पार्टी से अलग कर लिया है। शनिवार (21 अप्रैल) को उन्होंने पार्टी छोड़ने का ऐलान करते हुए कहा था कि आज देश में लोकतंत्र पर खतरा मंडराने की स्थिति नजर आ रही है। हमें इस स्थिति पर मिलकर विचार-विमर्श करना है। सिन्हा ने यह ऐलान करने से पहले विपक्षी दलों के कई नेताओं के साथ बैठक की थी, जिसमें उन्होंने बीजेपी को अलविदा कहने का जिक्र भी किया था।

आपको बता दें कि यशवंत सिन्हा देश के वित्त मंत्री रह चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार की कार्यशैली व नीतियों से वह बीते कुछ समय से खफा चल रहे थे। समय-दर-समय बीजेपी पर हमलावर भी होते रहते थे। कभी किसी सरकार की आलोचना करने वाला खुला खत लिख कर तो कभी पीएम पर इशारों-इशारों में हमला बोलकर।

आईएनएस के इनपुट के साथ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App