ताज़ा खबर
 

यशवंत सिन्‍हा ने की मोदी सरकार के खिलाफ ‘जन-आंदोलन’ की अपील, कहा- पीएम बाइक्‍स की बिक्री से अर्थव्‍यवस्‍था नाप रहे हैं

यशवंत सिन्हा ने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री कारों-मोटरसाइकिलों की बिक्री की संख्या बताकर कहा कि देश प्रगति कर रहा है।

वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा। (File Photo)

वरिष्ठ बीजेपी नेता और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर अपनी ही पार्टी की सरकार की आलोचना की है। रविवार (15 अक्टूबर) को यशवंत सिन्हा ने नरेंद्र मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना करते हुए “राजशक्ति” पर नियंत्रण के लिए “लोकशक्ति” की जरूरत बतायी। यशवंत सिन्हा महाराष्ट्र के अकोला में आयोजित एक कार्यक्रम में मोदी सरकार की नोटबंदी और जीएसटी जैसी नीतियों की आलोचना की। ये कार्यक्रम शेतकारी जागर मंच नामक एनजीओ ने आयोजित किया था। सिन्हा ने कहा, “आइए इस लोकशक्ति कि शुरुआत अकोला से करें। हम अभी से मंदी से जूझ रहे हैं। और आंकड़े क्या हैं। आंकड़ों से कुछ साबित नहीं होता। उन्हीं आंकड़ों से ठीक उलटी बात साबित की जा सकती हैं।”

यशवंत सिन्हा ने जय प्रकाश नारायण का उल्लेख करते हुए लोकशक्ति आंदोलन की अपील की जो राजसत्ता पर नियंत्रण रखेगी। उन्होंने कहा, हम यह लोकशक्ति पहल अकोला से शुरु करें। सिन्हा ने कहा, हम पहले से मंदी का सामना कर रहे हैं. और आंकडों का क्या? आंकडे एक चीज साबित कर सकते हैं तो उसी आंकडे से दूसरी चीज भी साबित की जा सकती है. मोदी पर निशाना साधते हुए भाजपा नेता ने कहा, हमारी सरकार के मुखिया ने हाल ही में एक घंटे के भाषण में भारत की प्रगति दिखाने के लिए आंकडों का हवाला दिया और कहा कि इतनी सारी कार और मोटरसाइकिल बिकीं। उन्होंने कहा, क्या इसका मतलब देश प्रगति कर रहा है. बिक्री तो हुई लेकिन क्या कोई उत्पादन हुआ।

यशवंत सिन्हा ने इंडियन एक्सप्रेस अखबार में लेख लिखकर नरेंद्र मोदी सरकारी की आर्थिक नीतियों, देश की अर्थव्यवस्था की मौजूदा स्थिति और अरुण जेटली की कड़ी आलोचना की थी। यशवंद सिन्हा के लेख के बाद उनके बेटे और नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री जयंत सिन्हा ने अपने पिता का नाम लिए बगैर एक अन्य अंग्रेजी अखबार में कहा था कि मोदी सरकार की आलोचना करने वालों को तथ्य नहीं पता है। वहीं वित्त मंत्री अरुण जेटली ने यशवंत सिन्हा पर तंज कसा था कि वो 80 साल की उम्र में नौकरी खोज रहे हैं। वहीं सिन्हा ने पलटवार करते हुए कहा था कि अगर वो नौकरी की कतार में होते तो जेटली वहां नहीं होते जहां वो हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App