ताज़ा खबर
 

खतरे के निशान से ऊपर यमुना, 50 से ज्यादा ट्रेनें कैंसिल और 90 का बदला गया रूट

जहां एक ओर बिहार में गंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही तो वहीं दूसरी ओर खबर आ रही है कि यमुना नदी का पानी भी शनिवार को खतरे का निशान से ऊपर आ गया।

Author नई दिल्ली | August 14, 2016 00:00 am

जहां एक ओर बिहार में गंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही तो वहीं दूसरी ओर खबर आ रही है कि यमुना नदी का पानी भी शनिवार को खतरे का निशान से ऊपर आ गया। यमुना के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए CBE ने पुराने पुल से होकर आने वाली करीब 50 से ज्यादा ट्रेनों कैंसिल कर दिया है और 90 को डायवर्ट कर दिया है। आपको बता दें कि सीबीई द्वारा ट्रेनों के रूट बदलने का निर्णय फिलहाल 24 घंटे के लिए लिया गया है। इन घंटों में अगर यमुना का स्तर खतरे के निशआन से कम हो जाता है तो डायवर्ट हुई ट्रेन वापस अपने ट्रैक पर आ जाएंगी और अगर ऐसा नहीं हुई तो इन्हीं रूट पर चलेंगी।


बदले हुए रूट में दिल्ली, नई दिल्ली, तिलक ब्रिज और साहिबाबाद से आने-जाने वाली करीब 150 ट्रेनें प्रभावित होंगीं। स्थिति पर पूर्ण रूस से ध्यान देने के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है जो 24 घंटे ट्रैफिक पर नजर रखेंगे। स्थिति पर नजर रखने के लिए इंजीनियर्स को भी हर घंटे सूचनाएं जारी करने के लिए कहा गया है। राज्य सरकारों को भी इन निर्णयों के बारे में जानकारी दी गई है।नइसके साथ स्टेशन मैनेजर्स और सीनियर ऑफीसर्स को भी निर्देश दिया गया है कि वे यात्रियों के नियंत्रण, रिफंड और घोषणाओं का ध्यान रखें, जिससे यात्रियों को ज्यादा परेशानी का सामना न करना पड़े।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App