ताज़ा खबर
 

कोरोना के अंत की शुरुआत: डॉ. हर्षवर्धन; देश में आज से दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान

इस ऐतिहासिक अभियान की औपचारिक शुुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे। टीकाकरण के पहले दिन देश भर में मौजूद 3,006 केंद्रों पर स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा।

Author नई दिल्ली | Updated: January 17, 2021 3:34 AM
corona vaccination beginningकेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन। (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

कोरोना विषाणु संक्रमण से बचाव के लिए शनिवार से शुरू हो रहे देशव्यापी टीकाकरण अभियान से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने शुक्रवार को कहा कि यह कदम ‘संभवत: कोविड-19 के अंत की शुरुआत है।’

कोरोना विषाणु के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शनिवार सुबह 10:30 बजे से शुरू होगा। इस ऐतिहासिक अभियान की औपचारिक शुुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से करेंगे। टीकाकरण के पहले दिन देश भर में मौजूद 3,006 केंद्रों पर स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि यद्यपि टीकाकरण अभियान शुरू होने वाला है लेकिन लोगों को संक्रमण से बचाव के तरीकों में ढिलाई नहीं देनी चाहिए और नियमों का पालन करते रहना चाहिए। हर्षवर्धन ने शुक्रवार को मंत्रालय में मौजूद कोरोना नियंत्रण कक्ष का जायजा लिया। उन्होंने कहा, ‘कल (शनिवार) एक अहम दिन है। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई का यह अंतिम चरण है। मैं तो कहता हूं कि यह संभवत: कोविड के अंत की शुरुआत है।

हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना विषाणु के खिलाफ भारत का यह टीकाकरण अभियान दुनिया में सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान है और स्वदेश में निर्मित दोनों टीके कोवैक्सीन और कोविशील्ड की सुरक्षा प्रमाणित है। इनकी प्रतिरक्षाजनकता उच्च है। महामारी को रोकने के लिए ये महत्त्वपूर्ण हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना नियंत्रण कक्ष में को-विन प्लेटफॉर्म की कार्यप्रणाली का बारिकी से देखा। को-विन डिजिटल प्लेटफॉर्म को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से विकसित किया गया है। को-विन टीकों के स्टॉक व भंडारण का तापमान और कोरोना टीकों के लाभार्थियों की व्यक्तिगत स्थिति की वास्तविक समय पर जानकारी प्रदान करेगा।

यह प्लेटफॉर्म टीकाकरण सत्रों के संचालन के दौरान सभी स्तरों (राष्ट्रीय, राज्य और जिला) के कार्यक्रम प्रबंधकों की सहायता करेगा। हर्षवर्धन ने इस दौरान को-विन में विभिन्न बदलाव करने के सुझाव भी दिए। कोरोना महामारी, टीकाकरण की शुरुआत और को-विन प्लेटफॉर्म से संबंधित पूछताछ के लिए एक समर्पित चौबीस घंटे का कॉल सेंटर 1075 भी स्थापित किया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने संवाद नियंत्रण कक्ष के कामकाज की भी समीक्षा की। यहां से कोरोना टीके देने से संबंधित दुष्प्रचार अभियान और अफवाहों की बारीकी से निगरानी की जा रही है। उन्होंने प्रशासनिक तंत्र को निहित स्वार्थी तत्वों की ओर से फैलाए जा रहे दुष्प्रचार का डटकर मुकाबला करने की सलाह दी।

हर्षवर्धन शनिवार सुबह दस बजे से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली की नई ओपीडी में टीकाकरण की शुरुआत के दौरान रहेंगे। इस दौरान केंद्रीय मंत्री एम्स के डॉक्टरों और टीकों के लाभार्थियों के साथ रहेंगे। हर्षवर्धन एम्स के अलावा दिल्ली में मौजूद अन्य कुछ कोरोना टीकाकरण केंद्रों पर भी जाएंगे। टीकाकरण के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के लिए विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराई गई है। इसमें बताया गया है कि किन लोगों को टीका लगाया जाएगा और किन को नहीं।

पहले दिन तीन लाख टीके लगेंगे
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक हर केंद्र पर सौ लाभार्थियों को टीका लगाया जाएगा। देश भर में 3,006 केंद्र स्थापित किए गए हैं। पहले दिन तीन लाख स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाए जाएंगे।

Next Stories
1 ‘बीजेपी, कांग्रेस को कर रही है फॉलो उसकी भी हालत कांग्रेस जैसी हो जाएगी’, समाजवादी पार्टी के नेता ने दी नसीहत
2 किसान आंदोलन: ”पूछ लेते वो मिजाज मेरा…बड़ा आसान होता इलाज मेरा”, अजय आलोक ने विपक्ष पर शायराना अंदाज में किया हमला
3 टीआरपी घोटाले में फंसे अर्नब गोस्वामी की WhatsApp चैट बता वायरल हो रहे स्क्रीनशॉट्स, जानिए इनमें है क्या
ये पढ़ा क्या?
X