ताज़ा खबर
 

कार्गो प्‍लेन से भारत आई दुनिया की सबसे वजनी महिला अब सामान्‍य फ्लाइट से जाएंगी अबु धाबी

23 सितम्‍बर 2016 को इमान का वजन 500 किलो था जो अब 176.6 किलो है। बताया जा रहा है कि इमान को अबु धाबी के बुर्जिल अस्‍पताल में ट्रांसफर किया जाएगा।

इमान बढ़े वजन के कारण कई बीमारियों की चपेट में आ गई थीं। (Photo Source: Video Grab)

दुनिया की सबसे वजनी महिला इमान अहमद को जल्‍द ही संयुक्‍त अरब अमीरात(यूएई) के अबु धाबी में अस्‍पताल में शिफ्ट किया जाएगा। मिस्र की रहने वाली इमान सामान्‍य फ्लाइट से बिजनेस क्‍लास यात्री के रूप में मुंबई से अबु धाबी जाएंगी। हालांकि जब वह इलाज के लिए भारत आई थीं तो उन्‍हें चार्टर्ड कार्गो प्‍लेन से लाया गया था। मुंबई के सैफी अस्‍पताल में इमान का इलाज कर रहीं डॉक्‍टर अपर्णा भास्‍कर ने यह जानकारी दी है। 23 सितम्‍बर 2016 को इमान का वजन 500 किलो था जो अब 176.6 किलो है। बताया जा रहा है कि इमान को अबु धाबी के बुर्जिल अस्‍पताल में ट्रांसफर किया जाएगा। इस अस्‍पताल के डॉक्‍टर्स ने 26 अप्रैल को इमान से मुलाकात की थी। इमान की बहन शाइमा सलीम ने इस बारे में उनसे रिक्‍वेस्‍ट की थी।

सैफी अस्‍पताल की ओर से 27 अप्रैल को जारी किए गए बयान में कहा गया था कि यहां पर इमान का इलाज पूरा हो गया है और उन्‍हें यूएई के बुर्जिल अस्‍पताल में शिफ्ट किया जाएगा। वहां पर उनकी सैकंडरी फिजियोथैरेपी जारी रहेगी। यूएई उनके घर के करीब भी रहेगा। हालांकि बता दें कि इमान को शिफ्ट किए जाने का कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब उनकी बहन और अस्‍पताल प्रशासन की ओर से एक-दूसरे पर काफी आरोप लगाए गए हैं। शाइमा की ओर से कहा गया कि उनकी बहन का सही तरह से इलाज नहीं किया जा रहा है। डॉक्‍टर्स ने इमान का वजन 262 किलो कम होने का भी झूठा दावा किया। शाइमा ने वीडियो मैसेज के जरिए इमान की सर्जरी करने वाले मुफ्फजल लकड़ावाला पर भी आरोप लगाए। हालांकि अस्‍पताल ने शाइमा के सभी आरोपों का खंडन किया है।

इमान की पिछली महीने बेरियाट्रिक सर्जरी हुई थी। डॉक्‍टर्स की ओर से कहा गया था कि इस सर्जरी के बाद उनके पेट का आकार दो-तिहाई कम हो गया है। डॉ. अपर्णा भास्‍कर की ओर से कहा गया कि सैफी अस्‍पताल के डॉक्‍टर्स की टीम ने उत्‍कृष्‍ट काम किया है। साथ ही इमान की रिकवरी भी अभूतपूर्व है। उनकी हालत स्थिर है और उन्‍हें अभी फिजियोथैरेपी और न्‍यूरॉलॉजिकल मदद की जरुरत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App