scorecardresearch

विश्वा : शतरंज ओलंपियाड में गुजरात से पहली खिलाड़ी

दुनियाभर की 350 टीमों के 1700 से ज्यादा खिलाड़ी शतरंज ओलंपियाड में हिस्सा लेंगे।

विश्वा : शतरंज ओलंपियाड में गुजरात से पहली खिलाड़ी

गुजरात में अहमदाबाद की विश्वा वासनावाला शतरंज की मंजी हुई खिलाड़ी हैं। वह अब शतरंज ओलंपियाड के लिए खेलेंगी। उन्हें भारत की तीसरी महिला शतरंज टीम में शामिल किया गया है। वह शतरंज ओलंपियाड में भाग लेने वाली गुजरात की पहली खिलाड़ी होंगी। वह अंतरराष्ट्रीय चेस-मास्टर कही जाने लगी हैं।

विश्वा वासनावाला के मुताबिक, शतरंज ओलंपियाड का आयोजन 28 जुलाई से तमिलनाडु में चेन्नई के पास महाबलीपुरम में होना है। दुनियाभर की 350 टीमों के 1700 से ज्यादा खिलाड़ी शतरंज ओलंपियाड में हिस्सा लेंगे। भारत की ओर से महिला प्रतियोगिता में तीन टीमों को मैदान में उतारा जाएगा। इसके लिए विश्वा को तीसरी टीम में चुना गया है।

विश्वा वासनावाला फिलहाल सर्बिया में चल रहे टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही हैं। वह ऐसी युवती हैं, जिन्होंने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में उल्लेखनीय प्रदर्शन किया है। एक शानदार शतरंज खिलाड़ी बनाने तक उनकी मां शीतलबेन का विशेष योगदान रहा। पिता हितेशभाई भी उनकी तमाम दिक्कतें दूर करते रहे हैं। विश्वा की शतरंज यात्रा कांकरिया में निगम के शतरंज केंद्र में गुजरात के पहले अंतरराष्ट्रीय शतरंज खिलाड़ी नीरव राजसुबा अगुवाई में शुरु हुई। वह उनकी प्रतिभा को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले गए।

इन दिनों विश्वा को यूक्रेन के एलेक्जेंडर गोलोसापोव द्वारा मेंटर किया जा रहा है। वह अभी 12वीं साइंस स्ट्रीम की पढ़ाई कर रही हैं। उनका नाम गुजरात की साखित योजना के स्पोर्ट्स अथारिटी में भी शामिल है। गुजरात राज्य शतरंज संघ के कार्यकारी सदस्य अजय पटेल के साथ राकेश शाह और भावेश पटेल ने विश्वा की हालिया उपलब्धि पर बधाई दी है।

आजादी के बाद पहली बार देश में शतरंज ओलंपियाड का आयोजन किया जा रहा है। इससे पहले 1927 में ओलंपियाड देश में आयोजित किया गया था। आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर कई चीजें शुरू हो रही है। जिसमें शतरंज का ओलंपियाड भी शामिल है। लगभग 100 वर्षों के अंतराल पर यह ओलंपियाड को भारत आने का अवसर मिला है।

ओलंपिक खेलों के बाद शतरंज ओलंपियाड दुनिया का सबसे बड़ा खेल आयोजन है। टोक्यो ओलंपिक खेलों में 206 भाग लेने वाले देश थे। भारत में होने वाले 44वें शतरंज ओलंपियाड-2022 188 से अधिक देश शामिल होंगे। हालांकि देशों की संख्या और बढ़ सकती है। भारत इस बार खेल की मेजबानी कर रहा है। खेल एवं युवा कल्याण मंत्रालय की ओर से 44वें शतरंज ओलंपियाड प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है, जो 28 जुलाई 2022 से 10 अगस्त 2022 तक चलेगा।

ओलंपियाड मास्को, रूस में आयोजित होने वाला था और वे इसके लिए लगभग दो साल से तैयारी कर रहे थे। हालांकि, यूक्रेन के साथ मौजूदा स्थिति के कारण, इस आयोजन को रद्द करना पड़ा। जिसके बाद अखिल भारतीय शतरंज महासंघ ने प्रतियोगिता का आयोजन करने की जिम्मेदारी लिया। भारत पहली बार शतरंज प्रतियोगिता की मेजबानी कर रहा है। जो ऐतिहासिक है। एशिया में 30 साल और भारत 95 वर्षों बाद प्रतियोगिता का आयोजन होने जा रहा है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट