ताज़ा खबर
 

लोकसभा चुनाव में मारी थी बाजी, लेकिन विधानसभा में पीछे चल रहे BJP के ये दिग्गज

बीजेपी ने बंगाल में अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया। यहां तक कि उसने जीत का माहौल बनाने की कोशिश में अपने केंद्रीय मंत्री और सांसदों को भी असेंबली चुनाव में उतार दिया। लेकिन देखा जाए तो उसका ये दांव बेकार साबित हुआ है।

west bengal election, babul suprio, locket chatterjee, rajiv banerjee, election resultकेंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो और हुगली से लोकसभा सांसद लॉकेट चटर्जी (फोटोः एजेंसी)

लोकसभा चुनाव 2019 के परिणामों से उत्साहित बीजेपी ने बंगाल में अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया। यहां तक कि उसने जीत का माहौल बनाने की कोशिश में अपने केंद्रीय मंत्री और सांसदों को भी असेंबली चुनाव में उतार दिया। लेकिन देखा जाए तो उसका ये दांव बेकार साबित हुआ है। आसनसोल से सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो को बीजेपी ने टॉलीगंज से अपना उम्मीदवार बनाया था। वो इस सील पर लगातार पीछे चल रहे हैं। दूसरी तरफ हुगली की सांसद लाकेट चटर्जी भी चुचुड़ा सीट पर फिलहाल पीछे चल रही हैं।

बंगाल में नंदीग्राम के बाद सबसे रोचक मुकाबला दक्षिण 24 परगना के टालीगंज सीट पर है। यहां पर मोदी सरकार के मंत्री बाबुल सुप्रियो और ममता सरकार के मंत्री अरुप विश्वास के बीच मुकाबला है। वहीं सीपीएम ने यहां से देवदत्त घोष को मैदान में उतारा है। टालीगंज सीट से बाबुल सुप्रियो करीब 25 हजार वोटों से पीछे चल रहे हैं। टीएमसी के कैंडिडेट अरुप विश्वास से सुप्रियो पीछे चल रहे हैं। बाबुल को 24878 वोट मिले जबकि अरुप को 49899 वोट मिले हैं।

टालीगंज सीट पर 2001 से ही इस टीएमसी का कब्जा है। अरुप विश्वास 2006 में लेफ्ट के उम्मीदवार को हराकर पहली बार सदन में पहुंचे थे। इसके बाद से उनका इस सीट पर लगातार कब्जा रहा है। 2016 में चुनाव जीतने के बाद ममता बनर्जी ने उन्हें अपनी सरकार में मंत्री बनाया। टॉलीवुड की वजह से इस इलाके में फिल्मी हस्तियों का अक्सर दबदबा रहता है।

हुगली से बीजेपी सांसद और बंगाली फिल्मों की चर्चित फिल्म अभिनेत्री लॉकेट चटर्जी चुचुड़ा से मैदान में थीं। हालांकि वह 5000 वोट से पीछे चल रही हैं। यहां से टीएमसी के असीत मजूमदार 33849 हजार वोट पाकर बढ़त बनाए हुए हैं। लॉकेट को 28677 वोट मिले हैं। विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले ममता सरकार में मंत्री रहे राजीव बनर्जी टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। अपनी परंपरागत सीट डोमजुर से 4000 से अधिक वोटों से पीछे चल रहे हैं। अभी तक हुई मतगणना में राजीव बनर्जी को कुल 15 हजार 275 वोट मिले हैं जबकि टीएमसी के कल्याण घोष को कुल 19 हजार 353 मत प्राप्त हुए हैं।

फिल्म अभिनेत्री और बेहला पूर्व से बीजेपी प्रत्याशी पायल सरकार पीछे चल रही हैं। बीजेपी नेता स्वपन दासगुप्ता तारकेश्वर सीट पर पिछड़े हुए हैं। आसनसोल दक्षिण से अभिनेत्री और टीएमसी प्रत्याशी सयानी घोष पर बीजेपी की अग्निमित्रा पॉल बढ़त बनाई हुई हैं। मशहूर हास्य अभिनेता कंचन मलिक उत्तरपाड़ा से पीछे चल रहे हैं। मलिक को टीएमसी ने अपना उम्मीदवार बनाया था।

Next Stories
1 चैनल ने ऑक्सिजन से सीटों की तुलना कर दिखाया चुनाव परिणाम, लोगों ने कहा- संवेदनहीन
2 “मैं फेल नेता हूं”, चुनावों में दीदी-स्टालिन के प्रचार में जान फूंक बोले PK- अब छोड़ रहा हूं ये काम
3 चुनाव आयोग का मुख्य सचिवों को फऱमानः जीत के उल्लास में नेताओं को न लगाने दिया जाए मजमा, उल्लंघन होने पर थाना प्रभारी होगा सस्पेंड
ये पढ़ा क्या?
X