ताज़ा खबर
 

मेनका गांधी के मंत्रालय का दावा- कश्मीरी बीएसएफ टॉपर की बहन को धमका रहे आतंकी, परिवार बोला- ऐसा कुछ नहीं है

उनकी मां हनीफा बेगम ने इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर बातचीत में कहा, "मैं हैरान हूं कि ये सब कहां से आया। जब ऐसा कुछ है ही नहीं, तो झूठ क्यों बोले हम।"

Author नई दिल्‍ली | Updated: May 17, 2017 10:49 AM
Triple Talaq,Supreme Court,Muslim women, Maneka Gandhiमहिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी। (फाइल फोटो)

सेना और सुरक्षाबलों पर आतंकी हमलों के बीच महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय की ओर से दावा किया गया है कि कश्मीर के बीएसएफ के एंट्रेस टॉपर की बहन को आतंकियों ने धमकी दी है। जिसके कारण उसने बहन के रहने के लिए कॉलेज हॉस्टल दिलाने में मंत्रालय की मदद मांगी। इस बात की जानकारी मंत्रालय के आधिकारिक ट्वीट पर एक के बाद एक ट्वीट करके दी गई। मंगलवार को मंत्रालय की ओर से किए गए ट्वीट में लिखा गया- “नबील अहमद वानी बीएसएफ में कमांडेंट है और उनकी बहन चंडीगढ़ में इंजीनियरिंग स्टूडेंट है। आगे के ट्वीट में बताया गया- उन्होंने (वानी) आतंकी धमकी मिलने के बाद मेनका गांधी से बहन को हॉस्टल दिलाने का आग्रह किया।” जिसके बाद मेनका गांधी ने इस मामले को लेकर कॉलेज प्रशासन से बात की और जवान की बहन को हॉस्टल में रहने की इजाजत दे दी गई। मंत्रालय ने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा- “पीएम नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और नेतृत्व में हमारा कर्तव्य है कि सैनिकों के परिवारों की रक्षा की जाए जो हमारे देश की रक्षा करते हैं।” हालांकि जवान के परिवार ने किसी भी आतंकी धमकी को सिरे से खारिज कर दिया है।

बीएसएफ असिस्टेंट कमांडेंट की ट्रेनिंग ले रहे है नबील बीएसएफ 2016 के टॉपर रहे हैं। इस सिलसिले में नबील का कहना है कि उन्हें या उनके परिवार को किसी तरह की आतंकी धमकी नहीं मिली है। उनका दावा है कि यह सिर्फ एक अफवाह है। मुझे किसी आतंकी से धमकी नहीं मिली है। जब उनसे यह पूछा गया कि आतंकी धमकी वाली बात कहा से आई तो उन्होंने बताया कि मेरी बहन फाइनल ईयर की स्टूडेंट है और उसे साथियों के साथ हॉस्टल खाली करने के लिए कहा गया था। इसके लिए केंद्रीय मंत्री को मेल भेजा और उन्होंने मेरी मदद की।

उनकी मां हनीफा बेगम ने इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर बातचीत में कहा, “मैं हैरान हूं कि ये सब कहां से आया। जब ऐसा कुछ है ही नहीं, तो झूठ क्यों बोले हम।” महिला और बाल कल्याण मंत्रालय द्वारा किए गए ट्वीट के बारे में जब उसने पूछा गया तो हनीफा ने कहा, “उन्होंने अपने लेवल पर ये किया होगा, पर हकीकत मैं ऐसी कोई चीज नहीं है।”

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट से बोला मुस्लिम पर्सनल बोर्ड- महिलाएं भी बोल सकती हैं तलाक, तलाक, तलाक, मांग सकती हैं ज्यादा मेहर
2 रिपब्लिक के अरनब गोस्वामी पर टाइम्स नाउ का कंटेंट चोरी का आरोप, बीसीसीएल ने पुलिस में दी शिकायत
3 रोकी नहीं तो आतंकवाद में बदल जाएगी धार्मिक कट्टरता, कुछ एनजीओ भी हैं एजेंट: राजनाथ सिंह
ये पढ़ा क्या?
X