ताज़ा खबर
 

कीर्ति आजाद का नाम लिए बिना बोले जेटली- सोनिया गांधी से मिल चुके एक सांसद मुझे निपटाना चाहते हैं

अरुण जेटली ने कहा, 'यूपीए टेन्योर के दौरान मेरी पार्टी के एक सांसद सोनिया से मिल चुके हैं। मुलाकात के दौरान मुझे फिक्स करने (निपटाने) को लेकर बात हुई थी। कांग्रेस सरकार को उन्होंने लेटर भी लिखा था।'

Author नई दिल्‍ली | December 20, 2015 10:40 AM
वित्त मंत्री अरुण जेटली (पीटीआई फोटो)

वित्‍त अरुण जेटली ने कीर्ति आजाद का नाम लिए बिना कहा कि ‘पार्टी के एक सांसद सोनिया गांधी से मिले हैं। दोनों ने मुझे निपटाने (फिक्स) की तैयारी की है।’ आपको बता दें कि जेटली का यह बयान कीर्ति आजाद की उस घोषणा के बाद आया है, जिसमें उन्‍होंने दावा किया है कि वह रविवार का प्रेस कॉन्‍फ्रेंस करके ऑडियो-विजुअल के साथ डीडीसीए में भ्रष्‍टाचार का खुलासा करेंगे।

अंग्रेजी अखबार ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के साथ बातचीत में जेटली ने कहा, ‘यूपीए टेन्योर के दौरान मेरी पार्टी के एक सांसद सोनिया से मिल चुके हैं। मुलाकात के दौरान मुझे फिक्स करने (निपटाने) को लेकर बात हुई थी। कांग्रेस सरकार को उन्होंने लेटर भी लिखा था।’ जेटली ने कहा, ‘इसलिए उन लोगों के मामले को सीरियस फ्रॉड ऑफिस (SFIO) को दे दिया गया। 2013 में SFIO ने एक रिपोर्ट दी थी, जिसमें कंपनी के प्रोसेस में गड़बड़ियां बताई गई थीं, लेकिन फर्जीवाड़े का कोई मामला नहीं बना था। जेटली को लेकर यह मामला है ही नहीं।’

क्‍या बोले थे कीर्ति आजाद: कीर्ति आजाद ने शनिवार को कहा कि वह रविवार को प्रेस कांफ्रेंस कर डीडीसीए में भ्रष्टाचार का भंडाफोड़ करेंगे और ‘बहरूपिए’ का चेहरा ‘बेनकाब’ करेंगे। आजाद ने अटल बिहारी वाजपेयी की कविता का उल्लेख करते हुए कहा कि वे आगे बढ़ेंगे और हार नहीं मानेंगे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को यह समझाने के लिए भाजपा सांसद को बुलाया था कि वे ऐसे समय आरोपों पर आगे नहीं बढ़ें जब विपक्षी दल, खासकर आम आदमी पार्टी डीडीसीए में कथित भ्रष्टाचार को लेकर जेटली को निशाना बना रही है। आजाद ने बाद में अपने इस फैसले को दोहराया था कि वे रविवार को प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। आजाद डीडीसीए में कथित भ्रष्टाचार को लेकर जेटली के कटु आलोचक रहे हैं।

Read Also:

नेशनल हेराल्‍ड केस: सोनिया-राहुल कैसे मिली मिनटों में जमानत, क्‍या था प्‍लान बी, जानिए, इस Inside Story में

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App