ताज़ा खबर
 

अभिनंदन के पूरे स्क्वाड्रन को मिली पाकिस्तानी विमान गिराने वाले की पहचान, वर्दी पर ‘Falcon Slayers’ बैज लगा

मिग-21 बायसन विमान से पाकिस्तान के एफ-16 फाइटर जेट को गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के पूरे स्क्वाड्रन को नई पहचान दी गई है। दरअसल, पूरे स्क्वाड्रन को पाकिस्तानी विमान गिराने की पहचान से नवाजा गया है। साथ ही, वर्दी पर ‘Falcon Slayers’ (फाल्कन स्लेयर्स) का बैज भी लगाया गया है। गौरतलब है कि […]

Author May 16, 2019 9:32 AM
विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

मिग-21 बायसन विमान से पाकिस्तान के एफ-16 फाइटर जेट को गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के पूरे स्क्वाड्रन को नई पहचान दी गई है। दरअसल, पूरे स्क्वाड्रन को पाकिस्तानी विमान गिराने की पहचान से नवाजा गया है। साथ ही, वर्दी पर ‘Falcon Slayers’ (फाल्कन स्लेयर्स) का बैज भी लगाया गया है। गौरतलब है कि अभिनंदन ने जम्मू-कश्मीर में 27 फरवरी 2019 को पाकिस्तानी एफ-16 ढेर कर दिया था। बता दें कि अभिनंदन ने जिस एफ-16 फाइटर जेट को मार गिराया था, उसके मेकर का नाम फाल्कन है।

सुखोई-30 स्क्वाड्रन को भी मिली उपाधि: जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तानी हवाई हमले को विफल करने वाले सुखोई-30 स्क्वाड्रन को भी नई उपाधि दी गई है। बता दें कि 27 फरवरी को हुए उस हमले में सुखोई विमानों ने पाकिस्तान की साजिश को नाकाम कर दिया था। उस हमले के वक्त पाकिस्तान ने अमेरिका में बनी AMRAAM मिसाइल का इस्तेमाल किया था, लेकिन सुखोई विमानों ने उस वार को भी फेल कर दिया था। ऐसे में सुखोई-30 स्क्वाड्रन को AMRAAM Dodger (एएमआरएएएम डॉजर) की उपाधि दी गई है।

National Hindi News, 16 May 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

बहादुरी की याद दिलाएंगे नए पैच: बता दें कि ये पैच कपड़े के बने हुए बैज हैं, जो स्क्वाड्रन की पहचान बताएंगे। साथ ही, उस कारनामे की भी जानकारी देंगे, जिसमें स्क्वाड्रन ने हिस्सा लिया हो। इन पैच पर उन विमानों को भी दिखाया गया है, जो स्क्वाड्रन उड़ाते हैं।

ऐसे हैं नए पैच:  51 स्क्वाड्रन के पैच पर मिग-21 बायसन बनाया गया है। वहीं, लाल रंग में एफ-16 को दिखाया गया है, जो टारगेट पर है। इनके अलावा सुखोई स्क्वाड्रन के रास्ते में AMRAAM मिसाइल भी दिखाई गई है, जो अपना निशाना चूक गई थी।

उपलब्धि जैसे हैं पैच: इंडियन एयर फोर्स के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन अनुपम बनर्जी ने बताया, ‘‘वर्दी पर पैच पहनना स्क्वाड्रन पायलट के लिए आम बात है। इन पैच का मतलब सम्मान से जुड़ा होता है। यह सम्मान सिर्फ वर्तमान पीढ़ी के लिए ही नहीं, बल्कि भविष्य में आने वाले पायलट को भी मिलेगा। यह पायलट को उपलब्धि हासिल करने जैसा एहसास दिलाता है।’’

जानें किसने बनाए ये पैच: जानकारी के मुताबिक, दोनों स्क्वाड्रन के लिए बनाए गए पैच सौरव चोर्डिया ने डिजाइन किए हैं। सिर्फ ग्रैजुएशन तक पढ़ाई करने वाले सौरव ने IAF के लिए पहली बार कोई पैच डिजाइन नहीं किया है, बल्कि वह कई बार यह काम कर चुके हैं। इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान चोर्डिया ने बताया कि उन्होंने 2 नए पैच बनाए हैं। उन्होंने बताया, ‘‘मुझे पिछले महीने 2 स्क्वाड्रन से पैच बनाने की रिक्वेस्ट मिली थी। कुछ बदलाव के बाद उन्होंने फाइनल डिजाइन अप्रूव्ड कर दिए।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App