ताज़ा खबर
 

भाजपा को रोकने के लिए चुनाव बाद साथ आ जाएंगे टीएमसी-कांग्रेस? अधीर रंजन ने किया इशारा

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता बनर्जी की टीएमसी के साथ पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद गठबंधन करने की संभावनाओं को पूरी तरह से खारिज नहीं किया है।

congress, bengalकांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी। (Indian Express)।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता बनर्जी की टीएमसी के साथ पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद गठबंधन करने की संभावनाओं को पूरी तरह से खारिज नहीं किया है। मालूम हो कि चुनाव में कांग्रेस लेफ्ट और इंडियन सेक्युलर फ्रंट के साथ मिलकर इस समय चुनाव लड़ रही है और टीएमसी अकेले चुनाव लड़ रही है।

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि राजनीति में कुछ भी मुमकिन है। जब उनसे पूछा गया कि क्या कांग्रेस के नेतृत्व वाला गठबंधन ममता बनर्जी को बहुमत ना मिलने पर टीएमसी का समर्थन करेगा? इसके जवाब में अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि यह एक पूरी तरह से काल्पनिक सवाल है। हम खुद के बूते राज्य में सरकार बनाएंगे। हमें नहीं पता कि हमारे गठबंधन को कौन दूसरे लोग समर्थन करेंगे और यह भी नहीं पता कि अगर ममता बनर्जी चुनाव हारती हैं तो कहां जाएंगी? हो सकता है कि वह हमारे गठबंधन का समर्थन करें या फिर वह हमसे समर्थन मांगे।

कांग्रेस सांसद एएच खान चौधरी पहले ही तृणमूल को कांग्रेस के समर्थन की वकालत कर चुके हैं। अगर टीएमसी को विधानसभा चुनाव में बहुमत नहीं मिलता है तो कांग्रेस उसका समर्थन करेगी।

अधीर रंजन चौधरी के इस बयान को लेकर कांग्रेस नेताओं का कहना है कि मुमकिन है कि बीजेपी को सत्ता से दूर रखने के लिए चुनाव नतीजों के बाद कांग्रेस और टीएमसी गठबंधन कर लें। कई लोगों को लगता है कि बंगाल में असल लड़ाई टीएमसी और बीजेपी के बीच में है और कांग्रेस और लेफ्ट वोट काटने का काम कर रहे हैं।

कांग्रेस उत्तरी बंगाल में जो 54 सीटों और मुर्शिदाबाद में 22 सीटों पर जोर लगा रही है लेकिन उसे तृणमूल के उम्मीदवारों से कड़ा मुकाबला मिल रहा है। मुमकिन है कि मुस्लिम वोट भी फुर्फूरा शरीफ के अब्बास सिद्दीकी और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टियों के बीच बंट जाए।

बता दें कि बीते समय में कांग्रेस का मुस्लिम वोट बैंक भी तृणमूल की ओर चला गया है। 2019 के लोकसभा चुनाव में भी अधीर रंजन चौधरी को तृणमूल उम्मीदवार से कड़ा मुकाबला मिला था।

कांग्रेस के अंदरखाने से बात सामने आई है कि मुस्लिम वोटर के बदलते मन और बीजेपी के बढ़ते कदमों के चलते अधीर रंजन चौधरी टीएमसी और कांग्रेस नेताओं को संदेश देना चाहते हैं।

Next Stories
1 योगी बोले- बंगाल में भी बनाएंगे ऐंटी रोमियो दस्ता, टीएमसी के गुंडों को भेजेंगे जेल
2 बंगाल चुनाव: कई बूथों के लिए तृणमूल को नहीं मिले पोलिंग एजेंट, ममता ने पहली बार किया “नारी शक्ति” का ज़ोरदार इस्तेमाल, कुछ जगह बीजेपी भी नहीं दे पाई पोलिंग एजेंट
3 पश्‍च‍िम बंगाल चुनावः तृणमूल नेता के घर पर 4 EVM, चुनाव अधिकारी सस्पेंड
ये पढ़ा क्या?
X