ताज़ा खबर
 

फफक-फफक कर रोए राकेश टिकैत, बोले- मारने की साजिश रची जा रही है; आत्महत्या की भी दी धमकी

भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत आज मीडिया के सामने रो पड़े।

नई दिल्ली में सोमवार को गाजीपुर बॉर्डर के पास BKU नेता राकेश टिकैत। (फोटोः पीटीआई)

भारतीय किसान यूनियन के राकेश टिकैत आज मीडिया के सामने रो पड़े। टिकैत मीडिया से बात कर रहे थे और कह रहे थे, ”हम डीएम के आदेश का सम्मान कर रहे थे। मुख्यमंत्री की बात का सम्मान हम कर रहे थे। इन से बातचीत चल रही थी कि आप गिरफ्तार कर लो हम गिरफ्तारी दे देंगे लेकिन हमारे लोगों की क्या गारंटी है उनको घर तक सुरक्षित कौन पहुंचाएगा?” यह बोलते बोलते किसान नेता राकेश टिकैत फफक फफक कर रो दिए। राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों को मारने की साजिश रची जा रही है। बीजेपी के विधायक यहां आ गए हैं और वह मारने की सोच रहे हैं।

राकेश टिकैत ने साफ किया कि वह कहीं जाने वाले नहीं है। यही रहेंगे। बीजेपी आंदोलन को खत्म करने के लिए साजिश रच रही है आंदोलन खत्म होने वाला नहीं है। राकेश टिकैत ने कहा कि बीजेपी देश के किसान को बर्बाद करना चाहती है। उन्होंने कहा कि देश के किसान को बर्बाद नहीं होने देंगे। राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार अगर कानून वापस नहीं लेगी तो वे आत्महत्या तक कर लेंगे।

राकेश टिकैत ने कहा कि देश के किसान के साथ गद्दारी है अत्याचार है। लाल किले पर झंडा मोदी के साथ फोटो खिंचवाने वाले ने लगाया है। राकेश टिकैत ने कहा कि गांव के लोगों से अपील है कि घबराने की जरूरत नहीं है। किसान दिल्ली आएंगे। आंदोलन जारी रहेगा।

इससे पहले राकेश टिकैत ने पुलिस के आगे सरेंडर करने से मना कर दिया। गाजीपुर बॉर्डर धरना स्थल पर किसानों को संबोधित करते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि वे पुलिस के आगे सरेंडर नहीं करेंगे। उन्होंने मांग रखी कि 26 जनवरी को हुई हिंसा की सुप्रीम कोर्ट द्वारा जांच कराई जानी चाहिए। राकेश टिकैत ने कहा कि हम अपना धरना-प्रदर्शन जारी रखेंगे और सरकार से बातचीत होने तक जगह खाली नहीं करेंगे।

Next Stories
1 रात तक यूपी गेट ख़ाली नहीं किया तो जबरन कराएंगे- ग़ाज़ियाबाद प्रशासन का आंदोलनकारी किसानों को अल्टीमेटम
2 दिल्ली हिंसा: गाजीपुर बॉर्डर पर हजारों की तादाद में यूपी पुलिस के जवान तैनात, कौशांबी कट की तरफ रास्ते को किया बंद
3 गुजरात: गांव में सबसे लड़ता था युवक, घरवालों ने खेत में चेन से बांधा: तेंदुए ने पहले मारा फिर कई अंगों को खाया
ये पढ़ा क्या?
X