ताज़ा खबर
 

अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनकर ही रहेगा: कठेरिया

केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री रामशंकर कठेरिया ने कहा है कि राम मंदिर जन जन की आस्था का केंद्र है। अयोध्या में भगवान राम मंदिर का निर्माण उच्चतम न्यायालय के निर्णय अथवा सभी पक्षों की आपसी सहमति के आधार पर ही किया जाएगा..

Author धौलपुर | January 11, 2016 8:36 PM
रामशंकर कठेरिया (FILE PHOTO)

केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री रामशंकर कठेरिया ने कहा है कि राम मंदिर जन जन की आस्था का केंद्र है। इसलिए अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनकर ही रहेगा, लेकिन मंदिर का निर्माण उच्चतम न्यायालय के निर्णय अथवा सभी पक्षों की आपसी सहमति के आधार पर ही किया जाएगा। कठेरिया ने सोमवार को यहां पत्रकारों से कहा कि इस साल के बजट में देश के सभी वर्ग के लोगों के सुझावों को शामिल किया जाएगा। इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर केंद्रीय मंत्री परिषद के सभी सदस्यों को देश के दो-दो लोकसभा क्षेत्रों में किसान, व्यापारी, मजदूर, पार्टी कार्यकर्ताओं तथा आम आदमी के साथ चर्चा करने का काम सौंपा गया है। इस चर्चा के दौरान मिले महत्वपूर्ण तथा जनहित के सुझावों को बजट में शामिल किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के मुख्य चुनावी मुद्दे के बारे में कठेरिया ने कहा कि भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास के मुद्दे पर ही चुनाव लड़ेगी। उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार सभी मोर्चों पर विफल रही है तथा आने वाले चुनाव में उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी।

इससे पूर्व केंद्रीय मानव संसाधन राज्य मंत्री रामशंकर कठेरिया ने धौलपुर के जवाहर नवोदय विद्यालय में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। उन्होंने स्कूली बच्चों से महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा लेने का आह्वान भी किया। धौलपुर के भार्गव वाटिका परिसर में आयोजित किसान सम्मेलन में बोलते हुए कठेरिया ने कहा कि धौलपुर चंबल लिफ्ट परियोजना के रास्ते में आने वाली बाधाओं को दूर कर लिया गया है तथा जल्दी ही यह परियोजना अमली जामा पहन सकेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार किसान के हितों को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही है। इस संबंध में किसानों की सभी समस्याओं के समाधान के लिए किसान आयोग के गठन की कवायद चल रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App