ताज़ा खबर
 

2019 में अकेले लड़ेगी बसपा? मायावती बोलीं- सम्‍मानजनक सीट मिलीं तभी करेंगे गठबंधन

भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के मसले को लेकर बसपा सुप्रीमो ने दोनों सरकारों को कोसा। कहा, "हमारे देश के बैंकों से पैसे लूट कर जो लोग विदेश भागे हैं, उसके लिए पूर्व की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) और वर्तमान की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार बराबर की जिम्मेदार हैं।"

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती। (एक्सप्रेस फोटोः विशाल श्रीवास्तव)

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया मायावती ने कहा है कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही उनका दल किसी से गठबंधन करेगा। वरना वे लोग अपने दम पर ही चुनाव लड़ेंगे। मायावती ने रविवार (16 सितंबर) को यह बात एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री इस बाबत बोलीं, “हम कहीं भी और किसी भी चुनाव में गठबंधन करने के लिए तैयार हैं, लेकिन तभी जब हमें सम्मानजनक सीटें मिलेंगी। अन्यथा बसपा अकेले चुनाव लड़ेगी।”

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर उन्हें ‘बुआ जी’ बता चुके हैं। बसपा सुप्रीमो ने उसी पर साफ किया, “मेरा उन लोगों से कोई नाता नहीं है। मैं सिर्फ आम लोगों, दलितों, आदिवासियों और पिछड़ी जाति के लोगों से जुड़ी हूं।” चंद्रशेखर, यूपी के सहारनपुर दंगे के आरोपी हैं। हाल ही में जेल से बाहर आने पर उन्होंने बसपा सुप्रीमो की सराहना की थी। चंद्रशेखर ने उस दौरान मायावती को बुआ बताया था।

विजय माल्या के मसले पर उन्होंने दोनों सरकारों को कोसा। कहा, “हमारे देश के बैंकों से पैसे लूट कर जो लोग विदेश भागे हैं, उसके लिए पूर्व की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) और वर्तमान की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार बराबर की जिम्मेदार हैं।”

मायावती यहीं नहीं रुकीं, उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर भी निशाना साधा। आगे कहा, “केंद्र और राज्य में बीजेपी सरकारें अपनी नाकामियों को छिपाने का प्रयास कर रही हैं। वे अपने चुनावी वादे भी पूरे नहीं कर सकीं। चुनावों में फायदा पाने के लिए वह वे अटल जी के नाम का इस्तेमाल कर रही हैं।”

आपको बता दें कि शनिवार (15 सितंबर) को बसपा सुप्रीमो तकरीबन साढ़े तीन महीने बाद लखनऊ पहुंचीं। यहां वह अपने नए आवास 9, मॉल एवेन्यू में आ गईं। उन्होंने इससे पहले जून की शुरुआत में पुराना बंगला 13, मॉल एवेन्यू छोड़ दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App