ताज़ा खबर
 

बेटी को निहारते रोहित सरदाना का फोटो पत्नी ने किया शेयर, पोस्ट था- तू परछाई मेरी; लोग बोले- ऐंकर का अकाउंट बंद मत करना

सरदाना के अकाउंट से किए गए ट्वीट में लिखा है "ये नज़र मेरी तुझसे, कभी भी हटेगी नहीं, तू परछाई मेरी, छाँव में भी मिटेगी नहीं।" कहा जा रहा है कि यह ट्वीट उनकी पत्नी ने किया है।

यह फोटो रोहित सरदाना के ट्विटर अकाउंट से शेयर किया गया है। (source: rohit sardana/twitter)

लोकप्रिय टीवी पत्रकार और एंकर रोहित सरदाना का कुछ दिन पहले निधन हो गया है। 42 वर्षीय सरदाना की 30 अप्रैल को कोरोना से संक्रमित होने के बाद दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी। रविवार को उनके ट्विटर अकाउंट से एक फोटो ट्वीट किया गया जिसमें वे अपनी बेटी को निहारते दिख रहे हैं।

सरदाना के अकाउंट से किए गए ट्वीट में लिखा है “ये नज़र मेरी तुझसे, कभी भी हटेगी नहीं, तू परछाई मेरी, छाँव में भी मिटेगी नहीं।” कहा जा रहा है कि यह ट्वीट उनकी पत्नी ने किया है। इस ट्वीट पर यूजर्स भी अपनी प्रतिकृया दे रहे हैं। कुछ यूजर्स का कहना है कि ऐंकर का अकाउंट बंद नहीं होना चाहिए। मितेश नाम के एक यूजर ने लिखा “इनका अकाउंट चालू रख कर उनके विचारों को आगे बढ़ना है। उनके सपनो को पूरा करना है और उन्हें हमारे बीच जिंदा रखना है।”

दुर्गेश नाम के एक अन्य यूजर ने लिखा “आप हमारे दिलों में आज भी हो सरदाना जी। नोटिफिकेशन ऑन हैं, लगा जैसे आपका ट्वीट….बस जो भी हैंडल कर रहे हो। इसे चलाते रखना। हमारे जैसे कइयों के लिए प्रेरणा थे वो।”

राकेश जैन ने लिखा “आपको आज पूरा देश बहुत याद कर रहा है आपकी कमी को कोई पूरा नहीं कर सकता बाबा काशी विश्वनाथ और बाबा काल भैरव आपकी दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में स्थान दे और आपके परिवार को इस दुख की घड़ी में हमेशा उनके साथ और आशीर्वाद हमेशा बनाए रखें यह हम प्रार्थना करते हैं।”

बता दें इन दिनों रोहित की बेटी नंदिका का भी एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। उसमें नंदिका कविता पढ़ रही है। वायरल हो रहा ये वीडियो हाल फिलहाल का नहीं है। नंदिका ने इस कविता में वक्त की अहमियत के बारे में समझाया है और साथ ही जिंदगी की सीख देने की कोशिश की है। यही वजह है कि हर कोई नंदिका की कविता को बेहद पसंद कर रहा है।

नंदिका की कविता सुनने के बाद एक यूजर ने कहा कि हमें आप पर गर्व है। वहीं एक अन्य यूजर ने नंदिका की हौसलाअफजाई करते हुए लिखा बहादुर बाप की बहादुर बेटी। कभी हार न मानना। परमात्मा तुम सब का मार्ग प्रशस्त करे। हम सब की ओर से शुभकामनाएं। जबकि एक अन्य शख्स ने लिखा कि मुझे पूर्ण विश्वास है तुम एक दिन अपने पापा के सपने को अवश्य साकार करोगी।

Next Stories
1 कोरोना संकट के बीच गेमचेंजर बनेगी DRDO की 2DG?
2 कोरोनाः लोग हंस रहे, थू-थू हो रही है- विश्व में भारत की ‘छवि’ पर बोले रवीश, कांग्रेसी नेत्री ने कहा- फर्जी विश्वगुरु के विरोध में हम लगवाएंगे 100 पोस्टर
3 गांवों पर आफत बनकर टूटा कोरोना! जानें- संक्रमण से कैसे निपटने को क्या कहती हैं केंद्र की गाइडलाइंस
यह पढ़ा क्या?
X