ताज़ा खबर
 

11 लाख रुपये की बाइ‍क से संसद पहुंचीं कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन, कहा- मुझे नहीं चाहिए सशक्तिकरण

हार्ले डेविडसन बाइक के बारे में रंजीत रंजन ने बताया कि यह गाड़ी उन्‍होंने अपने पैसों से खरीदी है। रंजीत रंजन ने कहा कि उन्‍हें ताकत नहीं चाहिए क्‍योंकि वह पहले से ही ताकतवर हैं।

Author नई दिल्ली | March 8, 2016 3:01 PM
इस बाइक की कीमत करीब 11 लाख रुपये बताई जा रही है। इसका वजन 300 किलो है और नाम स्‍ट्रीट बॉब है। इसमें 1600 सीसी का इंजन लगा है। (source-twitter)

अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस के मौके पर कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन हार्ले डेविडसन बाइ‍क से संसद पहुंचीं। बिहार के सुपौल से सांसद रंजीत रंजन काले और नारंगी रंग की लग्‍जरी बाइक पर सवार होकर आई। नीले सलवार कमीज और गहरे सनग्‍लासेज लगाकर जब रंजीत रंजन संसद में आईं तो सब चकित रह गए। इस बाइक की कीमत करीब 11 लाख रुपये बताई जा रही है। इसका वजन 300 किलो है और नाम स्‍ट्रीट बॉब है। इसमें 1600 सीसी का इंजन लगा है।

हार्ले डेविडसन बाइक के बारे में रंजीत रंजन ने बताया कि यह गाड़ी उन्‍होंने अपने पैसों से खरीदी है। बेटे के कहने पर उन्‍होंने यह बाइक खरीदी। उन्‍होंने बताया कि वह बचपन में भी बाइक चलाती थी।रंजीत रंजन ने कहा कि उन्‍हें ताकत नहीं चाहिए क्‍योंकि वह पहले से ही ताकतवर हैं। बाइक चलाना उसी का प्रतीक है। हालांकि पति पप्‍पू यादव को इस बाइक को छूने भी नहीं देती। उन्‍होंने बताया कि बाइक वह खुद ही चलाती हैं और पति को पीछे बैठाकर सवारी कराती हैं। बाइक चलाने के सवार पर रंजीत रंजन ने कहा कि क्‍या महिलाएं ऐसा नहीं कर सकतीं। हम लोग काफी समय से ऐसा कर रहे हैं। हमारा एक ग्रुप भी है।


रंजीत रंजन मधेपुरा से सांसद पप्‍पू राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव की पत्‍नी है। पप्‍पू यादव और रंजीत रंजन दोनों लोकसभा में सांसद हैं। दोनों की लव मैरिज हुई है। कहा जाता है कि शुरुआत में रंजीत रंजन ने पप्‍पू यादव को नकार दिया था। लेकिन बाद में मान गई और दोनों ने शादी कर ली। रंजीत रंजन को बेबाक राय रखने के लिए जाना जाता है। संसद में भी आक्रामक रूख रखती हैं। बिहार से कांग्रेस के केवल 2 सांसद हैं और इनमें से रंजीत रंजन इकलौती महिला है। वर्तमान लोकसभा में 66 महिला सांसद हैं।

SEE PICS: तस्वीरों में देखिए कैसे संसद आईं सांसद रंजीत रंजन

ranjeet-ranjan

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App