ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री ने की थी शादी पर टिप्‍पणी, कांग्रेस नेता की मुस्लिम पत्‍नी ने दिया जवाब

कांग्रेस नेता की पत्नी तबस्सुम राव ने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब किसी बीजेपी नेता ने उन्हें निशाना बनाया है। इसके पहले दो बार उन पर निजी टिप्पणी की जा चुकी है। तबस्सुम राव ने कहा कि उनका राजनीतिक से कोई मतलब नहीं हैं। वह एक गृहणी हैं। केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े को उन्होंने जुबान संभालकर बोलने की नसीहत दी है।

Author Updated: January 29, 2019 4:26 PM
कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष की मुस्लिम पत्नी तबस्सुम राव ने केंद्रीय मंत्री को तमीज में रहने की हिदायत दी है। उन्होंने कहा कि वह निजी टिप्पणियों से बचें और अपने पद की गरीमा का ख्याल रखें।( फोटो क्रेडिट/ ANI)

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव की पत्नी पर केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े की ओछी टिप्पणी से सोशल मीडिया पर तपमान चढ़ा हुआ है। राव की पत्नी तबस्सुम ने अनंत कुमार हेगड़े को जुबान संभालकर बोलने की नसीहत दी है। केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष के एक ट्वीट के जवाब में कहा था कि वह एक ऐसे व्यक्ति हैं, जो मुस्लिम महिला के पीछे भागे थे। गौरतलब है कि दिनेश गुंडु राव की पत्नी तबस्सुम मुस्लिम संप्रदाय से ताल्लुक रखती हैं।

राजनीतिक में खुद को निशाना बनाए जाने से नाराज तबस्सुम राव ने केंद्रीय मंत्री के ट्वीट पर लिखा, ” नेताओं को मर्यादाओं का ख्याल रखना होगा। उन्हें अपनी भाषा पर लगाम लगानी चाहिए। मैं कहना चाहती हूं कि मैं कोई राजनीतिक व्यक्ति नहीं हूं। मैं सिर्फ एक गृहणी हूं। आप (अनंत कुमार हेगड़े) चुनाव के ध्रुवीकरण के लिए मेरा इस्तेमाल क्यों कर रहे हैं? कम से कम आपको अपने पद की गरीमा का ख्याल रखना चाहिए।”

एक दूसरे ट्वीट में तबस्सुम राव ने लिखा, “आपने अपने पद की गरीमा को गिराने का काम किया है। मुझे पता है कि मुझे मामले में घसीटे बिना आपके पास उनके (दिनेश राव) सवालों के जवाब हैं। आपने अपनी मर्यादा घटाने का काम किया है।”

एनडीटीवी के साथ बातचीत में तबस्समु राव ने कहा कि इस घटना से वह और उनकी बेटी बेहद ही आहत हैं। उन्होंने कहा कि वह केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े से कहीं ज्यादा राष्ट्रप्रेमी हैं और सभी मजहबों का आदर करती हैं। उन्होंने कहा कि यह पहली बार नहीं है जब किसी बीजेपी नेता ने उन्हें राजनीति में घसीटा हो। यह तीसरी बार है जब उन्हें बेवजह निशाना बनाया गया है। उन्होंने कहा, “मेरा राजनीति से कुछ भी लेना-देना नहीं है। मैं सिर्फ बतौर भारतीय सोशल मीडिया पर अपने विचार साझा करती हूं। उन्हें कोई अधिकार नहीं है कि वे दूसरो की निजी जिदंगी में दखल दें।”

दरअसल, अनंत कुमार हेगड़े ने कर्नाटक की एक सभा में कहा था कि जो भी हाथ हिंदुओं की लड़कियों को पकड़े वह हाथ नहीं रहना चाहिए। साथ ही साथ उन्होंने अपने भाषण में कई भड़काऊ बातें भी कही थीं। उनके बयानों पर कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष अनंत कुमार हेगड़े ने पलटवार किया था और उनके बयानों की निंदा करते हुए प्रदेश के विकास में योगदान पर सवाल पूछे थे। अनंत कुमार ने उनके ट्वीट के जवाब में उनकी मुस्लिम पत्नी को लपेटे में ले लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 देशभर में 2454 हाथियों को बंधक बनाकर रखा गया, सबसे ज्‍यादा केरल और असम में
2 Kerala Sthree Sakthi Lottery SS-142 Today Results : आज निकाला गया लकी ड्रॉ, यहां देखें सभी विजेताओं की सूची
3 सितंबर में आएगी राफेल विमानों की पहली खेप, फंड की कमी से डिफेंस एयरबेस के निर्माण में देरी
ये पढ़ा क्‍या!
X