ताज़ा खबर
 

कभी भी, कहीं भी गन लहरा देता है वीके सिंह की पत्नी को ब्लैकमेल करने का आरोपी प्रदीप चौहान, 2014 में किया था सिंह के लिए प्रचार

जनरल वीके सिंह और उनकी पत्नी भारती सिंह पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगने वाले प्रदीप सिंह के बारे में कुछ अहम जानकारियां सामने आई हैं।
जनरल वीके सिंह की पत्नी भारती सिंह को ब्लैक करने वाला प्रदीप चौहान। (फेसबुक)

जनरल वीके सिंह और उनकी पत्नी भारती सिंह पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगने वाले प्रदीप सिंह के बारे में कुछ अहम जानकारियां सामने आई हैं। प्रदीप गुड़गांव की जिस सोसाइटी में रहता है वह वहां की रेजिडेंट वेलफेयर सोसाइटी (RWA) का अध्यक्ष भी है। प्रदीप के पड़ोसी और आसपास के लोग बताते हैं कि वह हमेशा अपने साथ एक बंदूक लेकर चलता है और उसे वह बिना सोचे समझे किसी पर भी कहीं पर भी चला देता है। पड़ोसियों ने यह भी बताया है कि उसकी आसपास के लोगों से ज्यादा बनती भी नहीं है और वह कई लोगों से लड़ाई भी कर चुका है। वह लोगों को अपने पास मौजूद बंदूकों से डराता भी है। इंडियन एक्सप्रेस को उसके फेसबुक की तलाश करने पर हैरान कर देने वाली तस्वीरें मिलीं। फेसबुक पर चौहान ने 51 फोटोज पोस्ट की हुई हैं और उनमें से 13 में वह अलग-अलग बंदूक लेकर खड़ा है।

मंगलवार (16 अगस्त) को प्रदीप सिंह से जब इस बारे में बात करने की कोशिश की गई तो उसके गार्ड ने बताया कि वह अपनी पत्नी और बेटे के साथ कहीं पर गया हुआ है। प्रदीप को घर से गए हुए तीन दिन हो चुके हैं लेकिन किसी को नहीं पता कि वह कहां है।

वीके सिंह की पत्नी और प्रदीप सिंह के बीच का विवाद 13 अगस्त को सामने आया था। भारती ने अपनी शिकायत में कहा था कि प्रदीप उनको ब्लैकमेल करके पैसे मांगता है। हालांकि, इसके बाद प्रदीप ने भी वीके सिंह और भारती के खिलाफ शिकायत दर्ज करवा दी थी। शिकायत में उसने लिखवाया, ‘मेरी जान खतरे में है। मेरे पास सिंह और उनकी पत्नी के खिलाफ ऑडियो और वीडियो सबूत हैं इसलिए वे मुझे जान से मारने की धमकियां देते हैं।’

भारती सिंह ने पुलिस को बताया था कि प्रदीप उनके भतीजे मानवेंद्र सिंह का दोस्त है। वे दोनों स्कूल में एक साथ पढ़ा करते थे। मानवेंद्र ने ही प्रदीप को वीके सिंह से मिलवाया था। प्रदीप ने वीके सिंह के लिए 2014 में हुए चुनाव में प्रचार भी किया था।

Read Also: वीके सिंह, उनकी पत्नी और परिवार मुझे दे रहे धमकियां, मेरे पास हैं उनके खिलाफ सबूत, मुझे बचाओ- प्रदीप चौहान की पुलिस से गुहार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.