ताज़ा खबर
 

बुजुर्ग माता-पिता को बेदखल करने वाले जाएंगे जेल- रेनुका कुमार

बुजुर्ग माता-पिता की इच्छा से इतर यदि कोई लाडने ने घर से बेदखल किया तो उस पर उचित कायर्वाही होगी। यह बातें आयुक्त सभागार में प्रमुख सचिव लघु सिंचाई व नोडल अधिकारी वृद्धाश्रम रेनुका कुमार ने कहा है।

Author वाराणसी | April 15, 2016 12:35 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

बुजुर्ग माता-पिता की इच्छा से इतर यदि कोई लाडने ने घर से बेदखल किया तो उस पर उचित कायर्वाही होगी। यह बातें आयुक्त सभागार में प्रमुख सचिव लघु सिंचाई व नोडल अधिकारी वृद्धाश्रम रेनुका कुमार ने कहा है। उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से सक्षम ऐसे बच्चों को जेल की हवा तक खानी पड़ेगी।

वृद्धाश्रम में रह रहे इस तरह के माता-पिता के भरण-पोषण का हर्जाना बच्चों को ही भरना पड़ेगा। माता पिता ने यदि फिर से अपने बच्चों के साथ रहने की इच्छा जाहिर की तो ऐसे बच्चों के घर में टीम जाकर उनकी काउंसलिंग करेगी। इसके बाद ही माता-पिता को साथ रहने के लिए भेजा जा सकता है। अगर गड़बड़ी पायी गयी तो भारतीय दंड विधान की धारा के तहत कायर्वाही की जायेगी।

उन्होंने गुरूवार को पत्रकारों को बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार माता पिता तथा वरिष्ठ नागरिकों के वृद्धाश्रम में ठौर ठिकाने भरण पोषण का खर्च सरकार अब खुद उठायेगी। उन्होंने बताया कि आश्रम में निराश्रित माताओं की यूनिट कार्ड बनाया जायेगा। तथा बैंक में खाता भी खुलेगी दान के पैसे भी जमा होगी। उन्होंने बताया कि कौशल विकासके लिए आश्रमों में कार्यक्रम चलाया जायेगा। वरिष्ठ नागरिक व वृद्धाश्रम में रह रहे लोगों की गंभीर बीमारी की चिकित्सा व आपरेशन सुविधाएं सरकार वहन करेगी।

गंभीर बीमारी की अवस्था में आश्रमों में रह रहे वृद्धाओं व बुजुर्गों को बाहर चिकित्सा हेतु ले जाने और ले आने की सभी खर्च नि:शुल्क मुहैया करायी जायेगी। आश्रमों में रह रहे सभी वृद्धाओं व बुुजुर्गों का सर्वे अप्रैल माह तक कराया लिया जायेगा। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि वृन्दावन के वृद्धाश्रमों का सर्वे हो चुका है।

बनारस में 18 अप्रैल तक सर्वे का काम पूरा कर लिया जायेगा। उन्होंने बताया कि निजी क्षेत्र के वृद्धाश्रमों को मिलने वाली पेंशन चिकित्सा, भोजन दैनिक जीवन से जुड़ी कई मूलभूत बुनियादी सुविधायें मिल रही है कि नहीं इसकी आंकड़े एकत्रित करायी जा रही है। उन्होंने बताया कि वृद्धाश्रम की नोडल अधिकारी ने शिकायत किया है कि निजी क्षेत्र के आश्रमों में तमाम धांधली किये जाते हैं। ऐसे संस्था के बैंक खाताओं को जांच करायी जायेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App