ताज़ा खबर
 

पीएम बोले- जिसने 40 साल से कुछ नहीं किया, हम पर उठा रहे सवाल, सेना को भी घसीट रहे विपक्षी नेता

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ को पार्टी की ताकत का मंत्र करार देते हुए गुरुवार को कहा कि भाजपा में नाम से नहीं बल्कि काम से नेतृत्व तय होता है, यहां कोई व्यक्ति स्थायी नहीं है और सबका साथ, सबका विकास ही सरकार का मंत्र है ।

Author Updated: September 13, 2018 5:40 PM
पीएम मोदी का कांग्रेस पर हमला

मोदी विरोध के नाम पर सेना पर सवाल उठा रहे हैं कुछ विपक्षी नेता : मोदी नयी दिल्ली, 13 सितंबर :भाषा: र्सिजकल स्ट्राइक के मामले में कांग्रेस समेत कुछ विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरूवार को कहा कि मोदी विरोध और भाजपा विरोध के नाम पर कुछ विपक्षी दलों के नेता आपा खो देते हैं। वे देश की सेना पर सवाल उठा रहे हैं ।
अरुणाचल प्रदेश, गाजियाबाद, हजारीबाग, जयपुर ग्रामीण और नवादा संसदीय क्षेत्र के भाजपा बूथ कार्यकर्ताओं को नरेन्द्र मोदी एप के जरिये संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ ये देश का दुर्भाग्य है मोदी विरोध करते करते , भाजपा विरोध करते-करते कुछ विपक्ष के राजनेता आपा खो बैठे और उन्होंने देश की सेना पर सवाल उठाए ।’’ उन्होंने कहा किस प्रकार से सेना प्रमुख के खिलाफ शब्दों का इस्तेमाल किया गया, यह भी देश ने देखा है। उन्होंने कहा कि र्सिजकल स्ट्राइक सेना के युद्ध कौशल को तो दिखाती ही है, साथ ही गौरव करने का एक महत्वपूर्ण अवसर भी देती है। मोदी ने कहा कि रातों-रात किसी को खबर नहीं लगती है और सेना के जवान र्सिजकल स्ट्राइक करके वापस देश की सीमा में आ जाते हैं, यह भारत के इतिहास का एक गौरवमयी क्षण है।

उन्होंने कहा कि देश का हर व्यक्ति अपनी सेना पर गर्व महसूस करता है। कठिन से कठिन और दुर्गम से दुर्गम परिस्थितियों में भी अगर हमारे लिए कोई दिन-रात एक करके तथा अपनी जान हथेली पर लेकर खड़ा है तो वे हमारी सेना के वीर जवान हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने वन रैंक, वन पेंशन लागू की और जो लोग (कांग्रेस) 40 साल तक इसे लागू नहीं कर पाये, वे हमें सिखायेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि सैनिकों का कर्ज कोई नहीं चुका लेकिन सम्मान प्रकट कर सकते हैं । उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा कि वीर शहीदों एवं उनके परिवार के प्रति सम्मान प्रकट करें, स्कूलों में छात्रों को वीर सैनिकों के बारे में बताया जाए।

मोदी ने कहा कि आज भाजपा करोड़ों सर्मिपत कार्यकर्ताओं की देशव्यापी पार्टी है। केंद्र के साथ-साथ देशभर के अनेक राज्यों में भाजपा की सरकारें हैं। भाजपा के विजन को, विश्वसनीयता को, राष्ट्र के प्रति समर्पण को, देश ने अभूतपूर्व समर्थन दिया है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, ‘‘ जागरूक रहें, सच्चाई को सामने रखें, तर्कों के साथ अपनी बात रखें। विपक्ष का झूठ हमारी सच्चाई, हमारे तथ्यों के सामने नहीं टिक पाएगा। जनता के सामने वोट डालते समय कोई भ्रम नहीं रहेगा। सामने सिर्फ कमल का फूल ही दिखेगा ।’’

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ को पार्टी की ताकत का मंत्र करार देते हुए गुरुवार को कहा कि भाजपा में नाम से नहीं बल्कि काम से नेतृत्व तय होता है, यहां कोई व्यक्ति स्थायी नहीं है और सबका साथ, सबका विकास ही सरकार का मंत्र है। प्रधानमंत्री ने कुछ प्रदेशों के बूथ स्तर के भाजपा कार्यकर्ताओं से नरेन्द्र मोदी एप के माध्यम से संवाद में कहा, ‘‘मेरा संदेश साफ है कि अब तक की विजय यात्रा ने यह सिद्ध कर दिया है कि हमारी ताकत का मंत्र है ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’।’’ कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए मोदी ने कहा, ‘‘भाजपा में नाम से नहीं काम से नेतृत्व तय होता है। बूथ स्तर के कार्यकर्ता को संगठन के नेतृत्व की जिम्मेदारी को सौंपने का काम सिर्फ भाजपा ही कर सकती है फिर चाहे वह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हों या अलग अलग राज्यों में हमारे मुख्यमंत्री।

उन्होंने कहा कि इन सभी ने बूथ स्तर से कार्य करना शुरू किया है। यहाँ कोई व्यक्ति स्थायी नहीं है । उन्होंने कहा, ‘‘आज जहाँ मैं हूँ कल कोई और होगा और यह भारतीय जनता पार्टी में लोकतंत्र के कारण ही है। ’’ मोदी ने कहा, ‘‘पदभार व्यवस्था है और कार्यभार जÞम्मिेवारी। पदभार बदल सकता है लेकिन माँ भारती को सर्मिपत हम कार्यकताओं को कार्यभार से कभी मुक्ति नहीं मिल सकती।’’ कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कई बार तो उन्हें कांग्रेस के अनेक पुराने कार्यकर्ताओं पर, जिन्होंने संघर्ष किया है, जÞमीन पर काम किया है, उनके प्रति संवेदना का भाव आता है।

गांधी परिवार के परोक्ष संदर्भ में मोदी ने कहा कि उनका (कांग्रेस कार्यकर्ताओं) संघर्ष, उनका सामर्थ्य सिर्फ एक परिवार के काम ही आ रहा है। एक से एक समर्थ लोग परिवार के विकास की भेंट चढ़ गए हैं। अपनी सरकार के कामकाज का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ भाजपा सरकार सिर्फ नारे गढ़ती नहीं उन्हें धरातल की वास्तविकता तक ले जाती है। ‘सबका साथ-सबका विकास’ हमारे लिए सिर्फ नारा नहीं बल्कि एक मंत्र की तरह पवित्र लक्ष्य है ।’’ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार के काम में अगड़ों या पिछड़ों का सवाल नहीं होता है और सबका साथ, सबका विकास के मंत्र के आधार पर काम होता है।

मोदी ने कहा कि सौभाग्य योजना से बिजली रामेश्वर के घर में भी पहुंच रही है तो रहमान, रतिंदर और रॉबर्ट के घर का अंधेरा भी छट रहा है । उज्जवला योजना के तहत जो 5 करोड़ से अधिक गरीब बहनों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है तो उसमें सरिता भी है, सबीना भी और कोई सोफिया भी है। उन्होंने कहा कि मुद्रा योजना के तहत 13 करोड़ से अधिक लोन पाने वाले भाई-बहन हर जाति, पंथ और संप्रदाय से हैं। प्रधानमत्री ने कहा कि देश के नए बन रहे आधुनिक एक्सप्रेस वे, साफ-स्वच्छ रेलवे स्टेशनों और अनेक शहरों में बन रही मेट्रो में कोई जाति या पंथ पूछकर एंट्री नहीं होगी। उन्होंने कहा, ‘‘ कार्यकर्ताओं की मेहनत, सामर्थ्य, पुरुषार्थ और संकल्प के कारण ही आज हम इस मुकाम पर पहुंचे हैं।’’ मोदी ने कहा, ‘‘जड़ जितनी मजबूत होती है पेड़ उतना ही फलदाई और ताकतवर होता है। मेरे लिए यह सौभाग्य का विषय है कि आज मुझे भारतीय जनता पार्टी की जड़ को सींचकर उसे एक घने वृक्ष रुपी पार्टी बनाने वाले ऐसे अनेक कार्यकर्ताओं से बात करने का मौका मिला।’’

Next Stories
1 मोदी के लिए कहे ‘अनपढ़-गंवार’ शब्द पर अड़े संजय निरुपम, बोले- लोकतंत्र में PM भगवान नहीं
2 राहुल गांधी का कांग्रेस नेताओं को फरमान, मत लड़ें अदालतों में अनिल अंबानी का केस
3 राफेल पर नया खुलासा- अन‍िल से पहले मुकेश अंबानी की कंपनी बनने वाली थी पार्टनर
ये पढ़ा क्या?
X