ताज़ा खबर
 

जहां चुनाव, वहां नए प्रोजेक्ट्स…ऐसा क्यों? गडकरी बोले- मैंने तो कबूला जिन जगह चुनाव, वे हमारी प्राथमिकता पर

गडकरी ने कहा, उन्हें लगता है कि किसानों से सरकार को कम्युनिकेशन बेहतर करना होगा। किसानों को कानून के अच्छे पहलू समझ में आएंगे तो वो इनका विरोध नहीं करेंगे। इसके लिए सिलसिलेवार कोशिशें की जानी चाहिए।

nitin gadkariकेंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फोटोः ट्विटर@nitingadkari)

सड़क व परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि जिन राज्यों में चुनाव होते हैं वहां उनकी सरकार प्राथमिकता के आधार पर वहां नए प्रोजेक्ट को लेकर काम करती है। उन्होंने बेबाक लहजे में कहा कि इसमें गलत क्या है। वह इसे खुलकर कबूल कर रहे हैं। दरअसल, ऐंकर ने उनसे सवाल किया था कि जहां चुनाव होने वाले होते हैं, मोदी सरकार को उन राज्यों में ही नए प्रोजेक्ट लगाने की सुध क्यों आती है।

आजतक के प्रोग्राम सीधी बात में गडकरी ने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों के फायदे के लिए बनाए गए हैं। सरकार का प्रयास है कि किसानों की आय दोगुनी की जाए। इसके लिए इन कानूनों की बहुत ज्यादा जरूरत है। गडकरी का कहना था कि कानून अच्छे हैं, लेकिन सरकार किसानों को इनके फायदे नहीं बता पा रही है। सरकार को उनसे बात करने की कोशिश करनी चाहिए। तभी यह गतिरोध टूट सकता है।

गडकरी का कहना था कि उन्हें लगता है कि किसानों से सरकार को कम्युनिकेशन बेहतर करना होगा। उनका कहना था कि किसान अन्नदाता होता है। उनको कानून के अच्छे पहलू समझ में आएंगे तो वो इनका विरोध नहीं करेंगे। उनका कहना था कि इसके लिए सिलसिलेवार कोशिशें की जानी चाहिए। तभी किसान सरकार की बात को समझेंगे और इन कानूनों का दिल से स्वागत करेंगे।

परिवहन मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार समाज के सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर काम कर रही है। सरकार जो भी नीति बनाती है उसका ध्येय सबसे कमजोर व्यक्ति को लाभ पहुंचाना होता है। जब किसानों के लिए तीन कानून बनाए गए तब सरकार की मंशा कमजोर किसानों को नया जीवन देने की थी। ऐसे किसान जिनके पास कम जमीन और साधन कम होते हैं, सरकार उनका उत्थान करना चाहती है।

गडकरी ने कहा है कि बंगाल के लोग बदलाव चाहते हं और इस बार बीजेपी को मौका देना चाहते हैं। गडकरी ने कहा कि हमें विश्‍वास है कि बंगाल में बीजेपी इस बार बहुमत हासिल करने में सफल रहेगी। गडकरी ने कहा कि लोगों का विश्‍वास नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्‍व में है। केंद्र में हमारा प्रदर्शन लोगों को विश्‍वास दिलाता है कि बीजेपी बंगाल की तस्‍वीर भी बदलेगी। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि बंगाल का सीएम इसी राज्‍य से होगा। उनका कहना था कि ममता बनर्जी का बीजेपी पर बाहरी का आरोप गलत है। मंत्री ने कहा कि बंगाल भारत का ही हिस्सा है।

Next Stories
1 तेल निकाल रहा आम आदमी का ‘तेल’; पर NFHS, CES का कहना- गरीबों पर नहीं पड़ता है पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी का फर्क
2 किसान आंदोलन के 101 दिनः 5 घंटे रहेगा एक्सप्रेस वे का चक्का-जाम, ट्रैक्टर को किसानों का टैंक बता टिकैत ने बताया फॉर्म्युला
3 किसान आंदोलन के 100 दिनः LPG, MSP सरीखे मुद्दों पर ग्रामीणों ने BJP के लिए बना ली है ‘क्वेस्चन लिस्ट’, पर केंद्र गुम- बोले टिकैत
ये पढ़ा क्या?
X