ताज़ा खबर
 

…जब लोकल की वकालत करते अपनी घड़ी खोल कर दिखाने लगे नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री ने इसी में आगे जोड़ते हुए कहा- हमारे पास अच्छी खासी क्षमता है। ऐसे में हमें इस पर काम करने और योजना बनाने की जरूरत है कि कैसे और रोजगार क्षमता ग्रामीण, आदिवासी और कृषि-वन क्षेत्रों में पैदा की जाए।

Coronavirus, COVID-19, Lockdown, Nitin Gadkari, BJP, Titan, Watch, Khadi, Local Products, Vocal for Local, Aatmanirbhar Bharat, Narendra Modi, BJP, NDA, Trending News, National Newsरिस्ट वॉच उतारकर उसकी खासियत बताते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी। (फोटोः Indianexpress.com)

कोरोना संकट और लॉकडाउन के दौर में देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर’ और ‘लोकल के लिए वोकल’ फॉर्मेट पर बढ़ रहा है। इसी बीच, केंद्रीय मंत्री और सीनियर BJP नेता नितिन गडकरी का एक वीडियो आया है, जिसमें वह लोकल (स्थानीय/देसी) चीजों की वकालत करते दिखे। केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान कलाई पर बंधी अपनी घड़ी खोल ली और उसे दिखाकर उसके बारे में बताने लगे।

केंद्रीय मंत्री ने बताया, “ये इसी चीज का उदाहरण है, जो मैं आपको दे रहा हूं। यह टाइटन की घड़ी है। इसका पट्टा/बेल्ट खादी का है। घड़ी का डायल भी खादी का बना है। टाइटन ने इसे लॉन्च किया है और यह मेरे लिए वाकई में बड़ी चीज है।”

Coronavirus India LIVE Updates

बकौल गडकरी, “एक महीने के भीतर अधिक मांग के चलते बाजार में इसका स्टॉक खत्म हो गया। ऐसे में विभिन्न किस्म के प्रयोग/इनोवेशंस से कई तरह के उत्पाद और डिजाइन बन रहे हैं। अब जींस बनाने वाली अमेरिकी कंपनी लिवाइस खादी की डेनिम खरीद रही है। खादी डेनिम इन दिनों खासा प्रचलित हो चुकी है।”

उन्होंने इसी में आगे जोड़ते हुए कहा- हमारे पास अच्छी खासी क्षमता है। ऐसे में हमें इस पर काम करने और योजना बनाने की जरूरत है कि कैसे और रोजगार क्षमता ग्रामीण, आदिवासी और कृषि-वन क्षेत्रों में पैदा की जाए। साथ ही यह भी समझना होगा कि हम वहां के कच्चे माल को कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

गडकरी के मुताबिक, अब ऐसा समय आ चुका है, जब 150 जिले सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक रूप से बहुत मायने रखते हैं। ऐसे में पूरा जोर इस पर है कि हम कैसे आदिवासी, कृषि और ग्रामीण इलाकों में उद्योग और रोजगार क्षमता का कैसे विकास किया जा सकता है। वहां पर कौन सी तकनीक काम में लाई जाएगी?

UP Coronavirus LIVE Updates

उन्होंने यह भी कहा कि वहां क्या नए प्रयोग होंगे, जिससे हम श्रम शक्ति का इस्तेमाल कर पाएंगे। साथ ही हमारा लक्ष्य गांव उद्योग का टर्न ओवर पांच लाख करोड़ रुपए तक ऊपर ले जाने का भी है। देखें, वीडियोः

क्‍लिक करें Corona Virus, COVID-19 और Lockdown से जुड़ी खबरों के लिए और जानें लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाइंस

Next Stories
1 पूर्व MP उदित राज ने अयोध्या को बताया बौद्ध स्थल, तो कांग्रेसी नेता ने ही लगाई क्लास; कहा- बुद्ध भी सनातन धर्म का हिस्सा, ज्ञान दुरुस्त कर लें
2 कोरोना संकटः सोनिया गांधी ने PM Cares Fund को लेकर किया ट्वीट, बिहार में BJP नेता ने दर्ज करा दी FIR
3 लॉकडाउन में खाने-रहने के पड़े लाले तो साइकिल चला बेटी पिता को ले आई गुरुग्राम से बिहार, कहा- न आते, तो भूखे मर जाते
MP Budget:
X