ताज़ा खबर
 

VIDEO: बिजनेसमैन ने की थी दरख्‍वास्‍त, राहुल गांधी ने वहीं से कमलनाथ को फोन घुमा करा दिया काम

मध्य प्रदेश के छोटे व्यापारियों से चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को व्यापारी संजय पटवर्धन ने दिया ऐसा सुझाव। राहुल ने तुरंत निकला फोन और सीधे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को मिला दिया। पहले राहुल ने कमलनाथ से खुद हैंडलूम को लेकर बात की और फिर कमलनाथ से संजय की बात भी कराई।

‘अपनी बात राहुल के साथ’ के दौरान लोगों से बात करते कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (picture source indian express)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात के जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ‘अपनी बात राहुल के साथ’ कर रहे हैं। इस सीरीज के तजा एपिसोड में राहुल गांधी ने उस समय सब को चौंका दिया जब एक व्यापारी द्वारा दिए गए सुझाव को लागु करने के लिए उन्होंने तुरंत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को फोन लगा दिया। राहुल ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से बातचीत कर खादी व्यवसायियों के प्रतिनिधिमंडल द्वारा दिए गए सुझाव को लागू करने को कहा।

इस सिलसिले में राहुल ने मंगलवार को राजधानी दिल्ली के आंध्र भवन में करीब एक दर्जन छोटे व्यापारियों के साथ दोपहर के खाने पर करीब एक घंटे चर्चा की। इस दौरान व्यापारियों ने जीएसटी से जुड़ी समस्याएं गिनाईं और भी तमाम सुझाव दिए। लेकिन सबसे दिलचस्प वाकया हुआ इंदौर से आए छोटे व्यापारी संजय पटवर्धन के साथ, जिसने सभी को चौंका दिया। संजय ने राहुल से मध्य प्रदेश में खादी को बढ़ावा देने का अनुरोध किया। संजय ने बताया यह मध्य प्रदेश में दूसरे नंबर का उद्योग है जो रोजगार दे सकता है। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष से कहा “स्वदेशी हैंडलूम को बढ़ावा देने के लिए, हम सरकारी स्कूल के छात्रों को खादी वर्दी क्यों नहीं प्रदान कर सकते हैं?” इस पर राहुल ने अपना मोबाइल निकाला और सीधे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को मिला दिया। पहले राहुल ने कमलनाथ से खुद हैंडलूम को लेकर बात की और फिर कमलनाथ से संजय की बात भी कराई। कमलनाथ से बात करने के बाद राहुल ने कमलनाथ से संजय की मीटिंग भी फिक्स करवा दी। राहुल का ये अंदाज देखकर सभी का चौंकना लाजमी था।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राहुल से कहा कि सरकार पहले से ही इस तरह के विचार पर विचार कर रही थी और अगले शैक्षणिक सत्र से स्कूलों में छात्रों को खादी से बनी वर्दी प्रदान की जाएगी। सीएम ने संजय से भोपाल में मिलने के लिए कहा। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बताया इस कदम से एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App