ताज़ा खबर
 

जो नरेंद्र मोदी का पक्ष ले रहे, उन्हें देश नहीं माफ करेगा, जब बोले थे लालू यादव, कहा- मिलकर लूट लिया हुस्नवालों ने

एंकर ने लालू प्रसाद से सवाल किया था कि 2015 के विधानसभा चुनाव के बाद अगर आप लोगों की सरकार बनती है तो क्या रिमोट आपके हाथों में होगा?

राजद प्रमुख लालू प्रसाद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो – इंडियन एक्सप्रेस)

‘इंडिया टीवी’ के एक कार्यक्रम में साल 2015 में लालू प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला था। एक सवाल के जवाब में लालू प्रसाद ने कहा था कि जो नरेंद्र मोदी का पक्ष ले रहे, उन्हें देश नहीं माफ करेगा। साथ ही उन्होंने कहा था कि इस देश को मिलकर लूट लिया हुस्नवालों ने।

एंकर ने लालू प्रसाद से सवाल किया था कि 2015 के विधानसभा चुनाव के बाद अगर आप लोगों की सरकार बनती है तो क्या रिमोट आपके हाथों में होगा? जवाब देते हुए लालू प्रसाद ने कहा कि एक बात मैं बता दूं कि सरकार के रिमोट का सवाल ही नहीं है। देश और दुनिया का निगाह इस चुनाव पर है। यह सिर्फ बिहार का चुनाव नहीं है, यह देश का चुनाव है। यह चुनाव सिर्फ लालू, नीतीश का नहीं है।

पहले लोग कहते थे कि लालू नहीं मानेगा। लेकिन आपको पता है कि हमलोगों ने कहा कि वोट बंटवारा से बचते हुए देश को बर्बाद होने से बचाया जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि इतिहास उन लोगों को भी माफ नहीं करेगा, जो पक्ष ले रहे हैं नरेंद्र मोदी और बीजेपी का। लालू प्रसाद ने सवाल किया कि क्या हम देश को टूटने दें?

बीजेपी पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि ये लोग क्या-क्या बोलता था। पहले बोलता था स्वदेशी लेकिन जब सरकार में आया तो कुछ भी नहीं कर रहा है। सिर्फ यूपीए सरकार के योजनाओं का नाम बदलकर, मनरेगा का कटौती कर के। गरीबो के अस्पताल में कटौती कर के सिर्फ भाषण से काम चलाना चाहता है।

लालू प्रसाद ने कहा कि आजादी के बाद हजारों करोड़ रुपया खर्च हुआ उससे विकास नहीं हुआ? अब यह फिर कहता है विकास, मिलकर लूट लिया हुस्नवालों ने, गोरे-गोरे गालों ने..। एकंर ने सवाल किया कि जब आप मिलकर लूट लिया कहते हैं तो उसमें 60 साल कांग्रेस की सरकार भी थी। लालू प्रसाद ने कहा कि अब लोग समझने लगे हैं कि लालू प्रसाद सही बात बोल रहे हैं।

Next Stories
1 डॉक्टर टर टर, जब लाइव डिबेट में रामदेव को क्लिप दिखाने लगे थे डॉक्टर, जवाब दिया- अब आप ही चलाएंगे चैनल?
2 शिवसेना के बाद कांग्रेस ने भी माना, उद्धव ठाकरे और पीएम मोदी में अच्छी दोस्ती
3 असम में CAA आंदोलन के प्रमुख नेता अखिल गोगोई यूएपीए के आरोपों से बरी, सीएम हेमंत बिस्व सरमा ने बताया था ‘मानसिक रोगी’
ये पढ़ा क्या?
X