जब लालू यादव ने मोदी को बताया था कट्टरपंथी, कहा था- अंतरराष्ट्रीय शक्तियां लगी हैं पीएम बनाने में

2014 के आम चुनाव से पहले लालू प्रसाद यादव ने मोदी को कट्टरपंथी कहा था और यह भी कहा था कि उनको प्रधानमंत्री बनाने के पीछे अंतरराष्ट्रीय साजिश है।

lalu prasad yadav
लालू प्रसाद यादव का फाइल फोटो। क्रेडिट- एक्सप्रेस @प्रशांत रवि

लालू प्रसाद यादव अकसर प्रधानमंत्री मोदी को घेरते रहे हैं और अपने मजेदार अंदाज में गंभीर आरोप लगाते रहे हैं। साल 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले, जब मोदी प्रधानमंत्री नहीं थे तब लालू यादव ने उनपर खूब जमकर हमला बोला था। उन्होंने मोदी को कट्टरपंथी तक कह दिया था। बरखा दत्त को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि आम चुनाव में मोदी का गुब्बारा पंक्चर हो जाएगा।

लालू ने कहा था, ‘हमारे देश के जैसा देश दुनिया में कहीं नहीं है। अभी देश के सामने मेन अजेंडा सांप्रदायिकता है। ऐसे कट्टरपंथी आदमी को ठोक-ठठाकर बड़े-बड़े कॉर्पेरेट हाउस और अंतरराष्ट्रीय शक्तियां प्रधानमंत्री बनाने की कोशिश कर रही हैं। बड़ी चालाकी से इस देश के अभिजात्य वर्ग को भी जोड़ लिया गया है। मेन अजेंडा सांप्रदायिका तो किनारे करके वे नेहरू फैमिली पर अटैक कर रहे हैं।’

लालू प्रसाद यादव ने आडवाणी की बात करते हुए कहा, हम पहले भी मोदी के गुरु का रथ पंक्चर कर चुके हैं। नरेंद्र मोदी उनके चेले हैं। लालू यादव के साथ पूरा बिहार है। बता दें कि जब लालकृष्ण आडवाणी ने रथ यात्रा निकाली थी तब तत्कालीन सीएम लालू यादव ने उन्हें बिहार में गिरफ्तार करवा लिया था और यात्रा रुकवा दी थी।

इस इंटरव्यू के दौरान लालू प्रसाद यादव बरखा दत्त पर भी चालाकी का आरोप लगाने लगे थे। उन्होंने नीतीश कुमार को भी खूब बुरा-भला कहा। उन्होंने कहा-जेडीयू और भाजपा ने हमें हटाने के लिए 17 साल तक लव मैरेज किया था। नीतीश कुमार गोधरा दंगे के दौरान एक शब्द भी नहीं बोले थे। यही नीतीश कुमार कह रहे थे कि नरेंद्र मोदी गुजरात से निकलो और पूरा देश इंतजार कर रहा है।

राहुल गांधी और सोनिया गाँधी पर टिप्पणी करते हुए लालू प्रसाद यादव ने कहा था, उनके कैंडिडेट पूरे देश में खड़े हैं। उन्होंने कहा, मेरे साथ अगर उन्होंने प्रचार नहीं किया तो इसपर मुझे ऐतराज नहीं है। हम उनके समय का नुकसान नहीं पहुंचाना चाहते।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट